फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेशकभी देखा है इतना महंगा बकरा? साढ़े सात लाख लगी कीमत; कितना है वजन

कभी देखा है इतना महंगा बकरा? साढ़े सात लाख लगी कीमत; कितना है वजन

मध्य प्रदेश के भोपाल में एक बकरा साढ़े सात लाख रुपए में बिका है। बकरे के व्यापारी ने बताया कि उसका वजन डेढ़ क्विंटल से भी ज्यादा था। इस तरह अब बाजार में बकरों की मांग बढ़ जा रही है।

कभी देखा है इतना महंगा बकरा? साढ़े सात लाख लगी कीमत; कितना है वजन
Mohammad Azamपीटीआई,भोपालThu, 23 May 2024 07:31 PM
ऐप पर पढ़ें

मुस्लिमों के प्रमुख त्योहारों में से एक माने जाने वाली बकरीद को अभी कुछ दिन बाकी हैं। इस दौरान बकरों की खरीद-फरोख्त के लिए बाजार सज गए हैं। बाजारों में बकरों की मांग भी बढ़ गई है। गुरुवार को मध्य प्रदेश के भोपाल बकरा मंडी में रिकॉर्ड बन गया। यहां एक बकरे की कीमत साढ़े सात लाख रुपए लगा। बकरा बिक भी गया। मिली जानकारी के अनुसार, बकरे का वजन डेढ़ क्विंटल से ज्यादा है। आइये जानते हैं पूरा मामला क्या है।

चौंकाने वाली यह खबर मध्य प्रदेश के भोपाल से आई है। यहां एक बकरा विक्रेता शहाब अली बकरों को लेकर बाजार आए थे। इन बकरों में से एक बकरे की नीलामी के दौरान साढ़े सात लाख रुपए कीमत लगी। बकरा व्यापारी सैयद शहाब ने बताया कि बकरे का वजन 161 किलोग्राम था।

शहाब ने बताया कि साढ़े सात लाख रुपए में बिकने वाला बकरा उन्होंने राजस्थान से खरीदा था। उसकी उम्र दो साल हो गई थी। शहाब ने बताया कि बकरा राजस्थान के जंगल में लगभग दो साल तक रहा था। शहाब ने बताया कि एक साल की उम्र में उसे भोपाल लेकर आया और तब से उसकी देखभाल कर रहा था। आज उसकी कीमत साढ़े सात लाख रुपए लगी है। 

कश्मीर का बकरा भी पालते हैं शहाब
बकरों के बारे में जानकारी देते हुए शहाब ने बताया कि वो राजस्थान जैसे गर्म प्रदेशों के साथ-साथ कश्मीर जैसे ठंडे प्रदेशों से भी बकरे लेकर आते हैं और उनको पालते हैं। उन्होंने बताया कि कश्मीर से आने वाले बकरों की ज्यादा देखभाल करनी पड़ती है क्योंकि वहां वो ठंड के मौसम रहते हैं, जबकि यहां आकर तापमान काफी बढ़ जाता है। उन्होंने कहा कि कश्मीरी बकरों को पालने के लिए यहां अलग व्यवस्था की गई है।

सैयर शहाब ने बताया कि वो पिछले 20 सालों से बकरा पालन कर रहे हैं। बाद में उन्होंने इसे अपना पेशा बना लिया और अब अच्छा मुनाफा कमा रहे हैं। शहाब ने बताया कि इस दौरान वो सालभर में बकरों से लाखों रुपए कमा लेते हैं। इस दौरान सैयद ने कई लोगों को काम पर भी रखा हुआ जो बकरों की मालिश करने और उनके खाने-पीने की चीजों का ध्यान रखते हैं।