फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेशचंबल के युवाओं को सेना में जाने का मौका, 10 साल बाद होने जा रही अग्निवीर भर्ती; क्या है डेट

चंबल के युवाओं को सेना में जाने का मौका, 10 साल बाद होने जा रही अग्निवीर भर्ती; क्या है डेट

मध्य प्रदेश के चंबल अंचल के युवाओं के लिए खुशखबरी सामने आई है। यहां पूरे दस साल बाद सेना में भर्ती के लिए परीक्षा का आयोजन किया जा रहा है। इसको लेकर ग्वालियर प्रशासन ने डेट भी बता दी है।

चंबल के युवाओं को सेना में जाने का मौका, 10 साल बाद होने जा रही अग्निवीर भर्ती; क्या है डेट
Mohammad Azamलाइव हिन्दुस्तान,ग्वालियरSat, 22 Jun 2024 02:59 PM
ऐप पर पढ़ें

Agniveer Rally: चंबल के युवाओं को एक बार फिर देश की रक्षा करने का मौका मिलने जा रहा है। ठीक 10 साल बाद चंबल में अग्निवीर भर्ती परीक्षा होने जा रही है। यह परीक्षा अटल बिहारी वाजपेई ट्रेनिंग सेंटर का डिसेबिलिटी स्पोर्ट की ट्रैक पर आयोजित होगी। इसको लेकर प्रशासन ने सेना को मंजूरी दे दी है। अग्निवीर भर्ती परीक्षा को लेकर प्रशासन युद्ध स्तर पर तैयारी में जुटा हुआ है, क्योंकि प्रशासन के लिए भर्ती संपन्न कराना एक बड़ी चुनौती रहेगी। इसका सबसे बड़ा कारण है कि 10 साल पहले सेवा की भर्ती परीक्षा में जमकर उपद्रव और पथराव हुआ था। जिसमें सैकड़ो की संख्या में पुलिसकर्मी, पत्रकार और आम लोग घायल हुए थे। इसके बाद यहां कोई भी सेना भर्ती परीक्षा आयोजित नहीं हुई।

बता दें अग्निवीर भर्ती परीक्षा को लेकर जिला प्रशासन और पुलिस तैयारी में जुटा हुआ है। इसे लेकर खुद कलेक्टर और रुचिका सिंह चौहान लगातार बैठकर कर रही हैं। अग्निवीर भर्ती परीक्षा को लेकर किसी भी तरह की चुनौती से निपटने की पूरी तैयारी रहेगी। साथ ही कोई विवाद की स्थिति न बने इसको लेकर भी मंथन किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि यह अग्निवीर भर्ती परीक्षा 2 अगस्त से 12 अगस्त में रात 2:00 बजे से 6:00 बजे तक रहेगी। 

ग्वालियर-चंबल अंचल के युवाओं के लिए सेना में भर्ती होने का यह 10 साल बाद मौका रहा है। क्योंकि ग्वालियर चंबल अंचल में प्रदेश से सबसे ज्यादा युवा सेना भर्ती की तैयारी करते हैं। इसके अलावा यहां प्रदेश से सबसे अधिक युवा सेवा में शामिल हैं। यहां इससे पहले 2014 में सेना भारती परीक्षा आयोजित हुई थी, जिसमें जमकर उपद्रव हुआ था। इस भर्ती परीक्षा में युवाओं की संख्या अधिक आ गई थी, जिस कारण भर्ती में शामिल होने आए युवाओं ने जमकर पत्थरबाजी की थी। इसमें सैकड़ो की संख्या में पुलिसकर्मी पत्रकार और आम लोग घायल हुए थे। उसके बाद से दस साल तक ग्वालियर में सेना भर्ती परीक्षा आयोजित नहीं की गई। अब ठीक 10 साल बाद फिर से अग्निवीर परीक्षा भर्ती आयोजित होने जा रही है। इसको लेकर पुलिस प्रशासन पूरी तरह से तैयारी में जुटा हुआ है।