फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेशMP में कर्ज के नाम पर विदेशी नागरिकों से ठगी, ऐसे लेते थे गिफ्ट; अब पुलिस ने लिया ऐक्शन

MP में कर्ज के नाम पर विदेशी नागरिकों से ठगी, ऐसे लेते थे गिफ्ट; अब पुलिस ने लिया ऐक्शन

मध्य प्रदेश में विदेशी नागरिकों से ठगी करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने इस मामले दो आरोपियों को हिरासत में लिया है। दोनों पर ठगी करने का आरोप लगा है। आइये जानते हैं कि पूरा मामला क्या है।

MP में कर्ज के नाम पर विदेशी नागरिकों से ठगी, ऐसे लेते थे गिफ्ट; अब पुलिस ने लिया ऐक्शन
3 businessmen defrauded government of 15 thousand crores arrested in noida uttar pradesh
Mohammad Azamलाइव हिन्दुस्तान,इंदौरThu, 20 Jun 2024 04:17 PM
ऐप पर पढ़ें

कर्ज दिलाने के नाम पर अमेरिकी नागरिकों को ठगने के आरोप में इंदौर में पुलिस ने अहमदाबाद के एक पूर्व कॉल सेंटर कर्मचारी समेत दो लोगों को हिरासत में लिया है। इस बारे में जानकारी देते हुए अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त अमरेंद्र सिंह ने बताया कि लसूड़िया थाना क्षेत्र के एक होटल से पकड़े गए आरोपियों की पहचान अजय तोमर और राहुल माली के रूप में हुई है जिनकी उम्र 20 से 25 साल के बीच है। उन्होंने बताया कि दोनों आरोपी अहमदाबाद के गुजरात के रहने वाले हैं। सिंह ने बताया कि आरोपी उज्जैन और इसके आस-पास की जगहों पर पर्यटन के लिए मध्यप्रदेश आए थे।

इस फ्रॉड के बारे में जानकारी देते हुए सिंह ने बताया कि आरोपियों में शामिल अजय ज्यादा पढ़ा-लिखा नहीं है, लेकिन वह पहले अहमदाबाद के एक कॉल सेंटर में काम करता था। इस कारण उसे अंग्रेजी में विदेशी लोगों से फोन पर बात करने में महारत हासिल है। उन्होंने बताया कि आरोपी गूगल वॉइस मोबाइल ऐप के जरिये अमेरिकी नागरिकों को फोन करते थे और खुद को एजेंट बताकर उन्हें कर्ज दिलाने का झांसा देते थे। अब इस मामले में पुलिस ने ऐक्शन लेते हुए दोनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया है। दोनों आरोपी हिरासत में लिए गए हैं।

मिली जानकारी के अनुसार, आरोपी कर्ज दिलाने के शुल्क (प्रोसेसिंग फीस) के नाम पर अमेरिकी नागरिकों से ऑनलाइन गिफ्ट वाउचर लेते थे और इन्हें अन्य मोबाइल ऐप के जरिये भुना लिया करते थे। अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त के मुताबिक विलासितापूर्ण जीवन जीने के शौकीन आरोपियों के खिलाफ सुराग मिले हैं कि वे पिछले एक साल में कर्ज दिलाने के नाम पर अमेरिकी नागरिकों से 15 लाख रुपये से ज्यादा की ठगी कर चुके हैं। उन्होंने बताया कि दोनों आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 420 (धोखाधड़ी) और अन्य संबद्ध प्रावधानों के तहत मामला दर्ज करके विस्तृत जांच की जा रही है।