फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेशASI एक महीने से तंग कर रहे, किसान का सुसाइड नोट दिखा परिजनों का बवाल; न्याय की मांग

ASI एक महीने से तंग कर रहे, किसान का सुसाइड नोट दिखा परिजनों का बवाल; न्याय की मांग

इधर एक महिला ने उसके विरुद्ध हरिजन थाने में जमीन विवाद को लेकर शिकायत दर्ज कराई थी। जिसकी जांच एएसआई दारा सिंह जाट द्वारा की जा रही थी। मृतक ने सुसाइड नोट में एएसआई पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है।

ASI एक महीने से तंग कर रहे, किसान का सुसाइड नोट दिखा परिजनों का बवाल; न्याय की मांग
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,उज्जैनWed, 05 Jun 2024 06:47 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्यलप्रदेश के उज्जैन जिले में किसान आत्महत्या मामले में एक सुसाइड नोट सामने आने के बाद हड़कंप मच गया है। मामले में ग्रामीणों ने पुलिस कंट्रोल रूम का घेराव कर पुलिस को एक ज्ञापन दिया है जिसमे आरोप लगाया है की पुलिस की प्रताड़ना से तंग आकर किसान ने खेत पर फांसी का फंदा लगाकर सुसाइड कर लिया। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और लाश को फंदे से उतारकर उन्हें जिला अस्पताल लेकर आए। जहां डॉक्टर ने परीक्षण के बाद सत्यनारायण को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव का पोस्टमार्टम कराया है। मामले को लेकर परिजनों ने आरोपी एएसआई पर कार्रवाई की मांग की है।

जिले के घटिया थाना क्षेत्र के ढाबला रहवारी में रहने वाले 50 वर्षीय सत्यनारायण राठौर नामक किसान ने बुधवार सुबह 5 बजे के करीब अपने खेत में फांसी का फंदा लगाकर आत्माहत्या कर ली। सत्यनारायण राठौर बुधवार सुबह खेत पर गए थे। कुछ देर बाद उनका बेटा पंकज भी खेत पर पहुंचा तो देखा सत्यनारायण पेड़ पर फांसी के फंदे पर लटके थे। पंकज ने शोर मचाकर आसपास के लोगों को बुलाया।

बताया जा रहा है कि गांव की एक महिला ने उसके विरुद्ध हरिजन थाने में जमीन विवाद को लेकर शिकायत दर्ज कराई थी। जिसकी जांच एएसआई दारा सिंह जाट द्वारा की जा रही थी। मृतक ने सुसाइड नोट में एएसआई पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है।  इसको लेकर परिजनों और ग्रामीणों ने अस्पताल में काफी हंगामा किया परिजनों ने पुलिस को मृतक के फोन की कॉल रिकॉर्डिंग सौपी है जिसमें एएसआई द्वारा उसे कथित तौर पर धमकाया जा रहा है। 

परिजनों का आरोप

मृतक के परिजन सुनील ने बताया कि दलित महिला नर्मदा सिंह ने एक आवेदन अजाक्स थाने में दिया था। अजाक्स थाने में एक पुलिस दारा सिंह द्वारा बार-बार इन्हें बुलाकर प्रताड़ित करना और मारपीट करने के साथ-साथ डराया धमकाया जा रहा था। सरपंच के द्वारा समझाइश देने के बाद भी वह नहीं मान रहा था। जिससे परेशान होकर उन्होंने आत्महत्या जैसा कदम उठा लिया।

क्या बोली पुलिस

डीएसपी भरत यादव ने बताया कि जमीन मामले में एक किसान ने सुसाइड कर लिया है। मामले में परिजनों ने पुलिस को एक सुसाइड नोट दिया है।  जिसमें एक एएसआई के नाम का जिक्र है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। मृतक ने किसी दलित से जमीन खरीदी थी जिसमे रजिस्ट्री हो गई थी लेकिन नामांतरण को लेकर आपत्ति लगाई गई थी। जिसमें दलित की ओर से हरिजन थाने में शिकायत दर्ज कराई गई थी। इसमें जांच अधिकारी एएसआई दारा सिंह जांच कर रहे थे। 

एक सुसाइड नोट में उनका नाम लिखा है जिस पर जांच की जा रही है। अगर ऐसा कुछ पाया जाता है तो उन पर विधि संवत कार्रवाई की जाएगी। परिजनों से सारे एविडेंस कलेक्ट किए जा रहे हैं अगर वह सही पाए जाते हैं तो ठोस कार्रवाई की जाएगी।

रिपोर्ट विजेन्द्र यादव

Advertisement