फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशड्रग्स बेचना पाप है पुलिस हमारी बाप है...इंदौर में निकला पेडलर का जुलूस, वीडियो वायरल

ड्रग्स बेचना पाप है पुलिस हमारी बाप है...इंदौर में निकला पेडलर का जुलूस, वीडियो वायरल

इंदौर पुलिस ने ड्रग्स पेडलर को गिरफ्तार किया है जो इलाके में काफी समय से ड्रग्स और जहरीली शराब बेच रहा था। पुलिस ने उसका जुलूस निकाला। इस दौरान वह कहता है ड्रग्स बेचना पाप है, पुलिस हमारी बाप है।

ड्रग्स बेचना पाप है पुलिस हमारी बाप है...इंदौर में निकला पेडलर का जुलूस, वीडियो वायरल
Sneha Baluniलाइव हिन्दुस्तान,इंदौरFri, 08 Dec 2023 01:36 PM
ऐप पर पढ़ें

देर रात इंदौर के चन्दन नगर थाने में एक ड्रग्स पेडलर का जुलूस निकाला गया। आरोपी द्वारा इलाके में लंबे समय से ड्रग्स और जहरीली शराब बेचीं जा रही थी। पुलिस को काफी वक्त से आरोपी की तलाश थी। बैखोफ बदमाश द्वारा इलाके में ड्रग्स की सप्लाई की जाती थी। जुलूस के दौरान पेडलर ने कहा- ड्रग्स बेचना पाप है और पुलिस हमारी बाप है।

थाना प्रभारी इन्द्रमणि पटेल के अनुसार कुछ दिनों पहले इलाके में ड्रग्स बेचने वाले दो आरोपी सचिन और सुनील नाम के दो ड्रग्स पेडलर ब्राउन शुगर बेचते हुए कुछ समय पहले  गिरफ्तार किये गए थे। दोनों आरोपी द्वारा पुलिस को बताया गया था कि विजय काला निवासी रामानंद नगर नामक आरोपी इलाके में जहरीली शराब और ब्राउन शुगर बेचता है। जिसकी पुलिस को लम्बे समय से तलाश थी। गुरुवार देर रात विजय इलाके में किसी को जहरीली शराब की डिलीवरी करने आया था। जिसकी सूचना पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।     

तीन साल पहले 70 करोड़ की ड्रग्स बरामद की थी

वर्ष 2020 में  क्राइम ब्रांच ने एक टेंट व्यवसायी सहित चार लोगों को पकड़कर 70 करोड़ की ड्रग्स बरामद की थी। जब इनसे पूछताछ हुई और जांच-पड़ताल की तो पता चला कि यह एक बहुत बड़ा रैकेट है जो देशभर में काम कर रहा था। इंदौर में पकड़े गए चार लोगों की निशानदेही पर इस गिरोह के सदस्यों को राजस्थान, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई, गोवा, मध्यप्रदेश के अलावा कई और राज्यों से गिरफ्तार किया गया था। बात की जाये वर्ष 2022 की तो पिछले वर्ष 10 माह में क्राइम ब्रांच ने 80 और नारकोटिक्स विंग ने 51 तस्करों को पकड़कर करोड़ों की ड्रग्स जब्त की थी। जबकि 2021 में 1337 और 2020 में 937 लोगों को पकड़ा गया था। यह आंकड़ा दो साल में लगभग दोगुना हो गया है।

वर्ष 2023 में क्राइम ब्रांच द्वारा जारी किए गए आकंड़ों के अनुसार इस साल के पहले छह महीने में क्राइम ब्रांच ने 43 एनडीपीएस एक्ट के केस दर्ज किए हैं, जिसमें 73 तस्करों को गिरफ्तार किया है। उनके पास से एक करोड़ की ड्रग्स जब्त की गई है। इसमें सब से अधिक 85 लाख की ब्राउन शुगर जब्त हुई है, जो यह बताता है कि शहर में सब से अधिक डिमांड ब्राउन शुगर की है। जिसे राजस्थान से तस्करी कर इंदौर लाया जा रहा है। 31 केस में 59 आरोपी ब्राउन शुगर के साथ पकड़े गए हैं। इसके अलावा एमडी ड्रग्स के साथ चार आरोपी, चरस के साथ 4 आरोपी और गांजे के साथ 5 आरोपी पकड़े गए हैं। यह वह कार्रवाई है जो पुलिस ने की है। इसके अलावा थाना स्तर पर भी पुलिस छह माह में 50 लाख से अधिक की ड्रग्स जब्त कर चुकी है। 

शहर में नशे के अड्डे

शहर में कुछ क्षेत्र नशे के अड्डे बन गए हैं, जिनमें खजराना, आजादनगर, चंदननगर, बाणगंगा, गांधीनगर, सदरबाजार, बंबई बाजार, मूसाखेड़ी है। यहां से पुलिस ने कई तस्करों को गिरफ्तार किया है


(रिपोर्ट- हेमंत नागले)

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें