फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मध्य प्रदेशएमपी में आफत की बारिश ! भोपाल समेत कई जिले बाढ़ की चपेट में, रेस्क्यू टीम तैनात

एमपी में आफत की बारिश ! भोपाल समेत कई जिले बाढ़ की चपेट में, रेस्क्यू टीम तैनात

भोपाल में बीते 36 घंटे से जारी बारिश के चलते जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया। राजधानी भोपाल समेत प्रदेश के पांच जिलों में आज बारिश के चलते स्कूलों में छुट्टी कर दी गई। SDERF और NDERF तैनात की गई है।

एमपी में आफत की बारिश ! भोपाल समेत कई जिले बाढ़ की चपेट में, रेस्क्यू टीम तैनात
Suyash Bhattलाइव हिंदुस्तान,भोपालTue, 16 Aug 2022 02:18 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश में कई जिलों में लगातार हो रही भारी बारिश के चलते बाढ़ के हालात हो गए है। राजधानी भोपाल समेत कई जिले बाढ़ की चपेट में आ गया है। बारिश होने के कारण बरगी, बारना, तवा डैम के गेट खोलने के कारण नर्मदा नदी का जल स्तर बढ़ा है।

राजधानी भोपाल में बीते 36 घंटे से जारी बारिश के चलते जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया। राजधानी भोपाल समेत प्रदेश के पांच जिलों में आज बारिश के चलते स्कूलों में छुट्टी कर दी गई। अब तक भोपाल में 48 इंच से ज्यादा बारिश रिकॉर्ड की जा चुकी है। साथ ही भोपाल में सभी डैम कोलार, कलियासोत, भदभदा डैम के सभी गेट खोल दिए गए है।

नर्मदापुरम में भी बारिश के कारण नर्मदा खतरे के निशान से उपर बह रही है। नर्मदा का जलस्तर खतरे के निशान से उपर होने के चलते घाट और मंदिर डूब गए है। भारी बारिश और डैम से लगातार छोड़े जा रहे पानी के कारण नर्मदा के जलस्तर में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। वहीं मंदसौर में भारी बारिश की वजह से निचली बस्तियों में पानी भर गया। शिवना नदी का पानी पशुपतिनाथ मंदिर के गर्भ गृह तक पहुंच गया है। 

बता दें कि प्रदेश में अतिवृष्टि के कारण कई स्थानों पर नदी और नाले उफान पर है। भारी बारिश के चलवते मंडला से सिवनी, ओरछा से पृथ्वीपुर, चंदेरी से ललितपुर और बरेली से पिपरिया के मार्ग बंद कर दिए गए हैं। 

इन हालातों को देखते हुए प्रदेश में बारिश और बाढ़ से प्रभाविक इलाकों में फंसे लोगों को रेस्क्यू के लिए SDERF और NDERF  तैनात की गई है। इन टीमों ने अब तक देवास में 150 लोगों का, सीहोर में 8 बच्चों का, सोनकच्छ में पेड़ पर फंसे 2 लोगों का, रतलाम के सैलाना में तालाब फूटने से लोगों का सुरक्षित रेस्क्यू किया है। 

प्रदेश के विदिशा जिले में भी एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम वर्तमान में मौजूद है। विदिशा में अभी एनडीआरएफ की 2 टीम और एसडीआरएफ की 2 टीम मौजूद है। साथ ही इसके रायसेन, सीहोर और हरदा में एसडीआरएफ की 1 टीम मौजूद और 2 टीम रिजर्व में है। भोपाल और जबलपुर में एनडीआरएफ की 1 टीम रिजर्व में है।