फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशकांग्रेस को नुकसान पहुंचाने के लिए जानबूझ कर देते हैं बयान, दिग्विजय को बिस्वा सरमा का जवाब

कांग्रेस को नुकसान पहुंचाने के लिए जानबूझ कर देते हैं बयान, दिग्विजय को बिस्वा सरमा का जवाब

मध्य प्रदेश के खंडवा में हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा, 'दिग्विजय सिंह हिंदुओं के खिलाफ बयान देते हैं। वो PFI के पक्ष में और NIA के खिलाफ बोलते हैं। मुझे समझ नहीं आता है कि वो ऐसा क्यों करते हैं।'

कांग्रेस को नुकसान पहुंचाने के लिए जानबूझ कर देते हैं बयान, दिग्विजय को बिस्वा सरमा का जवाब
Nishant Nandanएएनआई,खंडवाThu, 09 Nov 2023 12:58 PM
ऐप पर पढ़ें

Madhya Pradesh Assembly Election : मध्य प्रदेश में जैसे-जैसे चुनाव की तारीख नजदीक आ रही है वैसे-वैसे जुबानों के तीर और नुकीले हो रहे हैं। खंडवा में बीजेपी प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार करने पहुंचे असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने राज्य के पूर्व सीएम और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह पर हमला बोला है। हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि दिग्विजय सिंह कांग्रेस को कमजोर करने के लिए जानबूझ कर ऐसे बयान देते हैं। हाल ही में दिग्विजय सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को झूठा कहा था। इसी पर प्रतिक्रिया देते हुए बिस्वा सरमा ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। 

हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा, 'दिग्विजय सिंह हिंदुओं के खिलाफ बयान देते हैं। वो PFI के पक्ष में और NIA के खिलाफ बोलते हैं। मुझे समझ नहीं आता है कि वो ऐसा क्यों करते हैं। दिग्विजय सिंह के बयानों से खुद कांग्रेस पार्टी को नुकसान होता है। पीएम मोदी मध्य प्रदेश में एक मशहूर नेता हैं और सभी समुदाय के लोग पीएम मोदी का सम्मान करते हैं।' उन्होंने आगे कहा दिग्विजय सिंह जानबूझ कर ऐसे बयान देते हैं ताकि कांग्रेस को कमजोर किया जा सके और इसकी कोई वजह नजर नहीं आती है। 

बिस्वा सरमा ने कहा, 'दिग्विजय सिंह कांग्रेस को कमजोर करने के लिए जानबूझ कर ऐसे बयान देते हैं। मुझे इसके अलावा औऱ कोई वजह नजर नहीं आती है। पीएम मोदी देश में सभी को प्यार करते हैं। फिर चाहे वो OBC या ST और सभी उनको भी प्यार करते हैं। दिग्विजय सिंह के सभी बयान कमलनाथ और खुद कांग्रेस के खिलाफ हैं।'

इससे पहले बुधवार को कांग्रेस महासचिव ने राज्य में बीजेपी के नेतृत्व वाली सरकार पर जमकर हमला बोला था। उन्होंने कहा, 'साल 2018 में कुछ दोहरे-चेहरे वाले लोगों ने मध्य प्रदेश की जनता द्वारा चुनी हुई सरकार को किडनैप कर लिया। देश कोविड महामारी से लड़ रहा था लेकिन स्वास्थ्य मंत्री बेंग्लुरु के होटल में बैठे थे और सरकार को अस्थिर करने के लिए विधायकों को खरीद रहे थे।' जनता से अपील करते हुए उन्होंने कहा कि इस दिवाली को कांग्रेस दिवाली बनाएं।  मध्य प्रदेश में 17 नवंबर को चुनाव होने हैं औऱ 3 दिसंबर को यहां चुनाव परिणाम आएंगे। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें