फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशदलित युवक को पहले पीटा फिर पैर पर रगवड़ाई नाक, वीडियो वायरल होने पर केस दर्ज

दलित युवक को पहले पीटा फिर पैर पर रगवड़ाई नाक, वीडियो वायरल होने पर केस दर्ज

बताया जा रहा है कि बाइपास मार्ग किनारे 6 युवकों ने शराब के नशे में धुत होकर अपने ही एक साथी की बेरहमी से पिटाई कर दी थी, जिससे वह बेहोश हो गया था। बाद में इस घटनाक्रम का वीडियो वायरल हुआ।

दलित युवक को पहले पीटा फिर पैर पर रगवड़ाई नाक, वीडियो वायरल होने पर केस दर्ज
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,देवासTue, 20 Feb 2024 10:26 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश के देवास में उज्जैन के एक दलित युवक के साथ अमानवीय बर्ताव करते हुए बेरहमी से मारपीट कर पैरों पर नाक रगड़ने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। बताया जा रहा है कि वीडियो 8 फरवरी की रात का है और पीड़ित को उसका दोस्त जन्मदिन की पार्टी मनाने के लिए देवास ले कर गया था। बताया जा रहा है कि रुपयों को लेकर विवाद हुआ था उसके बाद शराब के नशे में मारपीट की गई है। मारपीट इस कदर की गई थी कि युवक बेहोश हो गया था। दलित युवक को पीटने का वीडियो वायरल होने के बाद थाना बीएनपी पुलिस ने 6 आरोपियों पर विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज किया है। जिसमे से 4 आरोपियों की गिरफ्तारी हो गई है। बचे हुए 2 आरोपियों को पुलिस तलाश रही है।

बताया जा रहा है कि बाइपास मार्ग किनारे 6 युवकों ने शराब के नशे में धुत होकर अपने ही एक साथी की बेरहमी से पिटाई कर दी थी, जिससे वह बेहोश हो गया था। बाद में इस घटनाक्रम का वीडियो वायरल हुआ और 17 फरवरी को फरियादी की रिपोर्ट पर बीएनपी थाना पुलिस ने 6 नामजद आरोपियों के खिलाफ धारा 323, 294, 506, 342 व एससी एसटी एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। 

वीडियो में क्या है...

वायरल वीडियो में साफ तौर पर दिख रहा है कि किस तरह शुभम व उसके साथी रघुवंशी रामसिंह से बोल रहे है, 'मैं जितना बोलूं उतना ही बोलना, चल पहले पैर पड़ और कुछ करेगा, रामसिंह कहता है कि मैं कुछ भी नहीं करूं भैया, रघुवंशी बोलता है कि तूने उसकी कॉलर क्यों पकड़ी थी, इस दौरान रामसिंह ने इनकार किया और कहा- कॉलर नहीं पकड़ी तुम बोलो तो जल हाथ में उठा लूंगा, इसके बाद रघुवंशी ने युवक को चांटा मारा और पूछा मुझे जानता है तो, पीड़ित ने कहता है- नहीं जानता, इसपर वो कहता है, मैं रघुवंशी हूं चल आज मेरी अच्छे से शक्ल देख ले।' 

मिली जानकारी के अनुसार, फरियादी रामसिंह मकवाना उज्जैन के नागझिरी थाना क्षेत्र के चंदेसरा का रहने वाला है। मुख्य आरोपी शुभम राजपूत भी उज्जैन के दताना में रहता है,दोनों एक-दूसरे के मित्र है और दोनों साथ मिलकर जमीन खरीदी-बिक्री का काम करते हैं। 8 फरवरी को शुभम राजपूत व रामसिंह अपने एक साथी का जन्मदिन मनाने के लिए देवास में बाइपास स्थित फैमली ढाबे पर आए थे, जहां पर शुभम के अन्य मित्र भी पार्टी में शामिल हुए थे। 

5 लाख रुपये की फिरौती की डिमांड

पीड़ित रामसिंह का कहना है कि उसकी शुभम से 6 महीने पहले ही दोस्ती हुई थी, पैसे का लेनदेन नहीं था। घटना वाले दिन दोस्त जन्मदिन के बहाने देवास ले आया। ढाबे पर उसने अपने साथियों को बुला लिया। इसके बाद उनसे 5 लाख रुपये की फिरौती मांगी गई। पीड़ित ने कहा, 'मुझे सभी ने शराब के नशे में इतना पीटा कि मैं मरते-मरते बचा।' बाद में इस बात का अहसास हुआ कि शुभम ने उसका वीडियो बनाया है, जिसमें उसने 5 लाख रुपये देने की बात स्वीकार की है। यह वीडियो वायरल होने के बाद रामसिंह 17 फरवरी को थाने पहुंचा और अपनी शिकायत दर्ज कराई।

पुलिस ने क्या कहा...

बीएनपी थाना प्रभारी अमित सोलंकी ने बताया कि फरियादी की रिपोर्ट पर पुलिस ने शुभम राजपूत निवासी दत्ताना जिला उज्जैन,नितिन उर्फ अम्मू हटीला उम्र 19 साल निवासी चुना खदान बालगढ़ ,गोविंद उर्फ गोगा मोदी उम्र 20 साल निवासी लक्ष्मीपूरा और तिलकराज राठौड़ उम्र 20 वर्ष निवासी ग्राम निपानिया जिला देवास सहित दो अन्य आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। साथ ही चार आरोपी शुभम, नितिन,गोविंद और तिलकराज को गिरफ्तार कर लिया गया है। जबकि दो फरार बताए गए हैं।  

पीड़ित रामसिंह मकवाना को उसका एक साथी शुभम 8 फरवरी को देवास में दोस्त के यहां जन्मदिन मनाने का लिए कहकर लाया। बाइपास स्थित फैमिली ढाबे के पास आरोपी शुभम और उसके साथियों ने रामसिंह से मारपीट की और जातिसूचक शब्द कहे। इस पर शुभम सहित 6 आरोपियों के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया है।

रिपोर्ट : विजेन्द्र यादव

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें