DA Image
12 दिसंबर, 2020|4:06|IST

अगली स्टोरी

मध्य प्रदेश: नरसिंहपुर गैंगरेप को लेकर शिवराज सरकार को घेरने की तैयारी में कांग्रेस, 5 अक्टूबर को करेगी प्रदर्शन

mp cm kamalnath photo-ht

मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर जिले में सामूहिक दुष्कर्म की पीड़ित दलित महिला द्वारा आत्महत्या करने की घटना को लेकर कांग्रेस ने राज्य सरकार पर निशाना साधा है। पूर्व विधानसभा अध्यक्ष एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेता एनपी प्रजापति ने प्रदेश की भाजपा सरकार पर पुलिस महकमे में राजनीतिक हस्तक्षेप करने का आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार ट्रांसफर व पोस्टिंग में व्यस्त है तथा कानून व्यवस्था पर उसका ध्यान नहीं हैं। 

वहीं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने महिलाओं की सुरक्षा की मांग को लेकर कांग्रेस द्वारा पांच अक्टूबर को जिला स्तर पर मौन धरना प्रदर्शन करने घोषणा की है। प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में शनिवार को पत्रकार वार्ता में प्रजापति ने राज्य सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा, पुलिस महकमे में राजनीतिक हस्तक्षेप हो रहा है। अधिकारी कर्तव्य का पालन भूलकर नेताओं की परिक्रमा में लग गए हैं। प्रदेश सरकार ट्रांसफर, पोस्टिंग में व्यस्त हैं और कानून व्यवस्था पर किसी का ध्यान नहीं है।

मालूम हो कि प्रजापति स्वयं नरसिंहपुर जिले से ताल्लुक रखते हैं और जिले की गोटेगांव सीट से विधायक हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि बेटियों के खिलाफ लगातार बढ़ते अपराधों को लेकर सत्ताधारी पार्टी मौन है। इसलिए ऐसी घटनाएं बढ़ रही हैं। प्रजापति ने सवाल किया कि क्या प्रदेश में पुलिस की डॉयल 100 सुविधा बंद हो गई है जिस पर सरकार हर माह करोड़ों रूपये फूंक रही है।

प्रजापति ने दावा किया कि सामूहिक दुष्कर्म की पीड़ित महिला अपने पति के साथ थाने के चक्कर लगाती रही लेकिन पुलिस ने एक न सुनी जिसके बाद अवसाद में आकर पीड़ित महिला ने फांसी लगाकर ख़ुदकुशी कर ली। इस बीच कमलनाथ ने शनिवार को एक बयान जारी कर कहा कि प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ अत्याचार की बढ़ रही घटनाओं के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ता प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों पर पांच अक्टूबर को महात्मा गांधी और बाबा साहेब आम्बेडकर की प्रतिमाओं के समक्ष मौन धरना प्रदर्शन करेंगे। 

उन्होंने महिलाओं की सुरक्षा और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। उन्होंने कहा कि धरना प्रदर्शन में स्थानीय और जिला स्तर के कांग्रेस पदाधिकारी, जन प्रतिनिधि, कार्यकर्ता एवं आम नागरिक उपस्थित रहेंगे। कमलनाथ ने कहा, एक तरफ भाजपा 'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का बढ़-चढ़ कर नारा देती है, वहीं दूसरी तरफ भाजपा शासित राज्यों में ही आज बेटियां सबसे ज्यादा असुरक्षित हैं। चाहे यूपी के हाथरस की घटना हो या मध्यप्रदेश के खरगोन, सतना, जबलपुर , खंडवा, सिवनी, कटनी या नरसिंहपुर की घटना हो। आज हमारी बहन-बेटियां सबसे ज्यादा असुरक्षित हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Congress will protest on law and order in Madhya Pradesh on October 5