फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशमोदी खत्म कर रहे संविधान, बचाने के लिए बहाना पड़ेगा खून, कांग्रेस विधायक का बयान

मोदी खत्म कर रहे संविधान, बचाने के लिए बहाना पड़ेगा खून, कांग्रेस विधायक का बयान

कांग्रेस विधायक फूल सिंह बरैया का कहना है कि पीएम मोदी संविधान खत्म कर रहे हैं। संविधान को बचाने के लिए जरूरत पड़ेगी तो चंबल नदी में पानी नहीं खून भी बहाना पड़ेगा। पढ़ें यह रिपोर्ट...

मोदी खत्म कर रहे संविधान, बचाने के लिए बहाना पड़ेगा खून, कांग्रेस विधायक का बयान
Krishna Singhलाइव हिन्दुस्तान,ग्वालियरSun, 03 Mar 2024 01:30 AM
ऐप पर पढ़ें

कांग्रेस विधायक फूल सिंह बरैया का एक बार फिर विवादित बयान सामने आया है। राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान जनता को संबोधित करते हुए उन्होंने संविधान को बचाने के लिए खून बहाने की बात कही है। बरैया ने कहा कि नरेन्द्र मोदी संविधान को खत्म कर रहे हैं, इसलिए संविधान को बचाने के लिए जरूरत पड़ेगी तो चंबल नदी में पानी नहीं खून भी बहाना पड़ेगा। कांग्रेस पार्टी और ग्वालियर चंबल अंचल के लोग संविधान बचाने के लिए खून बहाने के लिए तैयार हैं। 

बताया जाता है कि डॉक्टर भीमराव अंबेडकर स्टेडियम में मंच पर राहुल गांधी भी मौजूद थे। इसी दौरान कांग्रेस विधायक फूल सिंह बरैया को मंच से संबोधन का मौका मिला तो उन्होंने संविधान को बचाने के लिए खून बहने की विवादित बात कह डाली। बरैया ने कहा कि बाबा साहेब अंबेडकर ने कहा था कि यह संविधान कितना भी अच्छा हो लेकिन यह यदि गलत हाथों में जाएगा तो अच्छा संविधान भी गलत साबित हो जाएगा। यदि खराब संविधान अच्छे हाथों में जाएगा तो वह अच्छा साबित हो जाएगा। 

आज मोदी जी और भाजपा के हाथों में यह संविधान है। यह अच्छा संविधान भी मोदी जी खराब साबित कर रहे हैं। मोदी सरकार संविधान और लोकतंत्र को खत्म करने के लिए देश को खत्म करने पर आमादा है। संविधान ने हमें जीने का अधिकार दिया है तो क्या भाजपा को 140 करोड़ लोग जीते हुए अच्छे नहीं लग रहे हैं। संविधान ने बोलने की आजादी दी है। इस आजादी को मिटाने के लिए मोदी जी आपको बताना पड़ेगा कि संविधान यदि जीने की आजादी देता है तो संविधान को खत्म करके यह आजादी क्यों छीन रहे हैं।

फूल सिंह बरैया ने कहा कि यदि संविधान खत्म हो जाएगा तो कोई भी नहीं जी पाएगा। यदि संविधान को बचाने के लिए जरूरत पड़ेगी तो हमें चंबल नदी में पानी नहीं खून बहाना पड़ेगा, तभी यह संविधान बचेगा। इसलिए अब आप तैयारी कीजिए, संविधान मिटाने वाला कोई हमारे सामने आएगा तो मैं दावे से कह सकता हूं कि कांग्रेस और ग्वालियर चंबल अंचल के लोग खून से नदिया बहाने के लिए तैयार हो जाएंगे। फूल सिंह बरैया का यह पहला विवादित बयान नहीं है। वह पहले भी विवादित बयान देते रहे हैं।

रिपोर्ट- अमित गौर

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें