फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशशादी हो गई लेकिन लड़की को पता तक नहीं चला, होश में आकर खा लिया जहर; सहेली ने रची थी साजिश

शादी हो गई लेकिन लड़की को पता तक नहीं चला, होश में आकर खा लिया जहर; सहेली ने रची थी साजिश

छात्रा उज्जैन से 60 किलोमीटर दूर माकड़ोन गांव की रहने वाली है। वह हॉस्टल में रहकर पढ़ाई करती है। उसके साथ यह घटना 16 फरवरी को हुई थी। हालांकि इस मामले में रिपोर्ट अब दर्ज कराई गई है।

शादी हो गई लेकिन लड़की को पता तक नहीं चला, होश में आकर खा लिया जहर; सहेली ने रची थी साजिश
Devesh Mishraलाइव हिन्दुस्तान,उज्जैनFri, 23 Feb 2024 07:35 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश के उज्जैन से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। कॉलेज में पढ़ने वाली एक लड़की की शादी नशे की हालत में करा दी गई। इस साजिश में उसकी सहेली भी शामिल है। दरअसल, छात्रा का आरोप है कि उसकी सहेली झूठ बोलकर उसे एक युवक के पास ले गई। वहां पानी में नशीला पदार्थ मिलाकर उसे पिला दिया गया। इसके बाद जब वह होश में आई तब साड़ी पहने हुए थी और उसकी शादी हो गई थी। इस घटना के बाद घर पहुंचकर छात्रा ने सुसाइड करने की कोशिश भी की।

सहेली ने रची साजिश
जानकारी के मुताबिक, छात्रा उज्जैन से 60 किलोमीटर दूर माकड़ोन गांव की रहने वाली है। वह हॉस्टल में रहकर पढ़ाई करती है। उसके साथ यह घटना 16 फरवरी को हुई थी। हालांकि इस मामले में रिपोर्ट अब दर्ज कराई गई है। कुल साल लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है जिसमें छात्रा की सहेली भी शामिल है। छात्रा ने अपनी शिकायत में बताया कि उसकी सहेली प्रमिला ने कहा कि अर्जुन का एक्सीडेंट हो गया है। अर्जुन पीड़िता के ही गांव का रहने वाला है। इसके बाद सहेली उसे अर्जुन से मिलाने ले गई।

नशे की हालत में शादी
छात्रा ने बताया कि प्रमिला मुझे चिंतामन ले गई। वहां मेरी अर्जुन से शादी करा दी गई। शादी का फोटो-वीडियो भी बनाया गया। पीड़िता ने बताया कि 'मुझे बस इतना याद है कि मुझे वहां प्रमिला एक कमरे में ले गई और मुझे साड़ी पहनाई। होश में आने के बाद मैंने कहा कि मेरे गले में माला कैसे आई? इसपर उसने कहा कि तुम्हारी शादी अब अर्जुन से हो गई है। इसके बाद जबरदस्ती मेरा वीडियो बनाया गया जिसमें मुझे यह कहने को कहा गया कि यह शादी मेरी मर्जी से हुई है। वीडियो वायरल करने की धमकी भी मुझे दी गई। इसके बाद वे लोग मुझे तरणताल के पास छोड़ दिए। वहां से मैं हॉस्टल पहुंची और फिर अपने घर चली गई। घरवालों को मैंने इसकी जानकारी दी और डर के चलते जहर खा लिया। घरवाले मुझे हॉस्पिटल ले गए। वहां से डिस्चार्ज होने के बाद रिपोर्ट दर्ज कराया गया है।'

छात्रा ने सुनाई आपबीती
छात्रा ने पुलिस से बताया कि 'मैं 16 फरवरी की दोपहर करीब 12 बजे हॉस्टल से रूममेट के साथ कॉलेज गई थी। दोपहर 1: 40 बजे मैं रूममेट के साथ फ्री गंज जा रही थी। पुलिस कंट्रोल रूम के समीप पहुंची तो प्रमिला (सहेली) व निर्मल बाइक से आए। प्रमिला ने कहा कि अर्जुन का एक्सीडेंट हो गया है। मैं उसके साथ बाइक पर बैठकर चली गई। टावर चौराहा पर अर्जुन, रवि और प्रदुम मिले। उनके साथ एक लंबे बाल वाला लड़का था, जिसे सब लाला कह रहे थे। गांव के होने की वजह से मैं सभी को जानती थी। मैंने कहा कि एक्सीडेंट का झूठ क्यों बोला तो अर्जुन ने बोतल में भरा पानी पीने को दिया, जिसे पीते ही मुझे नशा जैसा लगा। तभी प्रमिला व सुभाष ने मुझे बाइक पर बैठा लिया। मैंने पूछा कहा जा रहे हैं तो प्रमिला बोली कि चिंतामन जा रहे हैं।'

माधव नगर  थाना प्रभारी योगेंद्र सिंह यादव ने बताया कि जो घटना छात्रा ने बताई है, उस आधार पर बिना सहमति के जबरदस्ती शादी करने व धमकाने समेत अन्य धारा में सात लोगों को आरोपी बनाया है। घटना माधवनगर थाना क्षेत्र में हुई व छात्रा ने जहर माकड़ोन में खाया, जिसके चलते दोनों थानों की पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। मामले में अर्जुन पिता भागीरथ राठौर निवासी डेलची, सुभाष पिता गुड्डू, प्रमिला, लाला, रवि, निर्मल, प्रदुम पिता भागीरथ निवासी माकड़ोन नामजद आरोपी बनाए गए।

इनपुट- विजेन्द्र यादव 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें