फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेशराहुल गांधी को अब समुद्र पार कहीं से लड़ना होगा; और क्या-क्या बोले सीएम मोहन यादव

राहुल गांधी को अब समुद्र पार कहीं से लड़ना होगा; और क्या-क्या बोले सीएम मोहन यादव

सीएम मोहन यादव ने राहुल गांधी पर अटैक करते हुए कहा, 'वह हमारे धर्म का अपमान करते थे, युवा शक्ति और महिलाओं का अपमान करते थे। वह उत्तर प्रदेश से चुनाव हारने के बाद भाग गए।'

राहुल गांधी को अब समुद्र पार कहीं से लड़ना होगा; और क्या-क्या बोले सीएम मोहन यादव
Devesh Mishraभाषा,जबलपुरThu, 18 Apr 2024 10:06 AM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश में 19 अप्रैल को पहले चरण के तहत छह सीटों पर लोकसभा चुनाव के लिए वोटिंग होगी। राज्य में प्रचार अभियान थम गया है। इन छह सीट पर 88 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। ऐसे में एमपी के मुख्यमंत्री मोहन यादव ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर जमकर अटैक किया है। सीएम मोहन ने बुधवार को कहा, 'भविष्य में कांग्रेस नेता राहुल गांधी को समुद्र पार कर किसी दूसरी जगह से चुनाव लड़ना पड़ सकता है, क्योंकि उन्हें देश में सुरक्षित सीट नहीं मिलेगी। राहुल गांधी पिछली बार उत्तर भारत में अपनी सीट अमेठी नहीं बचा सके थे।'

समुद्र पार कर लड़ना होगा: सीएम मोहन
सीएम मोहन यादव ने राहुल गांधी पर अटैक करते हुए कहा, 'वह हमारे धर्म का अपमान करते थे, युवा शक्ति और महिलाओं का अपमान करते थे। वह उत्तर प्रदेश से चुनाव हारने के बाद भाग गए और दक्षिणी राज्य पहुंच गए... भविष्य में उन्हें समुद्र पार करना पड़ सकता है और कहीं और से चुनाव लड़ना पड़ सकता है।'

सनातन धर्म के लिए सबसे अच्छा वक्त: मोहन यादव
भाजपा नेता मोहन यादव ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार ने नक्सलवाद, आतंकवाद, भ्रष्टाचार और गरीबी से सफलतापूर्वक निपटा है। उन्होंने कहा, 'यह सनातन धर्म के लिए सबसे अच्छा वक्त है क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने न केवल अयोध्या में राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा में हिस्सा लिया बल्कि अबू धाबी में एक मंदिर का उद्घाटन भी किया।' मुख्यमंत्री ने यह भी दावा किया कि भाजपा इस बार छिंदवाड़ा समेत मध्य प्रदेश की सभी 29 लोकसभा सीट जीतने जा रही है। पिछले लोकसभा चुनाव में छिंदवाड़ा राज्य की एकमात्र सीट थी जिस पर कांग्रेस विजयी हुई थी।

यह भी जानिए
19 अप्रैल को होने वाले पहले चरण में राज्य की छह सीटों पर चुनाव लड़ रहे 88 उम्मीदवारों की किस्मत अब मतदाताओं द्वारा तय की जाएगी, जिसमें कांग्रेस के छिंदवाड़ा सांसद नकुल नाथ और मंडला (एसटी) से प्रत्याशी और मौजूदा केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते भी शामिल हैं।

एक अधिकारी ने बताया कि सीधी, शहडोल, जबलपुर, मंडला, बालाघाट और छिंदवाड़ा सीट पर बुधवार शाम छह बजे प्रचार थम गया। नक्सल प्रभावित बालाघाट जिले का हिस्सा बैहर, लांजी और परसवाड़ा विधानसभा क्षेत्रों में प्रचार शाम चार बजे समाप्त ही हो गया। अधिकारी ने कहा कि 57.02 लाख पुरुष, 55.66 लाख महिला और 184 तृतीय लिंग सहित लगभग 1.12 करोड़ मतदाता शुक्रवार को पहले चरण के दौरान अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। इसके लिए 13,570 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें