फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेशसाड़ी और चूड़ी पहन BSc छात्र ने लगाई फांसी, पुलिस और परिवार के लिए 'रहस्य' बना रूप

साड़ी और चूड़ी पहन BSc छात्र ने लगाई फांसी, पुलिस और परिवार के लिए 'रहस्य' बना रूप

मध्य प्रदेश के इंदौर में बीएससी कंप्यूटर साइंस के एक छात्र ने फंदे से लटककर आत्महत्या कर ली। पुलिस और परिवार के लिए उसका रूप रहस्य बन गया है। पुलिस इस मामले को संदिग्ध मानकर जांच कर रही है।

साड़ी और चूड़ी पहन BSc छात्र ने लगाई फांसी, पुलिस और परिवार के लिए 'रहस्य' बना रूप
Sneha Baluniलाइव हिन्दुस्तान,इंदौरMon, 20 May 2024 06:13 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश के इंदौर शहर के भंवरकुआ थाना क्षेत्र के हॉस्टल में रहने वाले एक छात्र ने कथित तौर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या करने से पहले छात्र ने साड़ी और चूड़ियां पहनीं, फिर फांसी के फंदे पर झूला गया। जब पुलिस मौके पर पहुंची तो यह नजारा देखकर वह आश्चर्यचकित रह गई लेकिन पुलिस इस मामले को संदिग्ध मान रही है और पूरे मामले में मनोरोग चिकित्सक से परामर्श लेने के बाद ही आगे जानकारी साझा करेगी। परिवार को घटना की सूचना दे दी गई है। मृतक के मोबाइल और कमरे में रखे हुए गैजेट भी पुलिस जांच कर रही है।

एडिशनल डीसीपी राजेश दंडोतिया के मुताबिक भंवरकुआ थाना क्षेत्र के खंडवा नाका के नजदीक रहने वाले 22 साल के पुनीत पिता त्रिभुवन द्वारा फांसी लगाकर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली गई। सूचना के बाद पुलिस जब मौके पर पहुंची तो इलाके के लोगों ने बताया कि तीन दिन पहले यह घटनाक्रम हुआ था क्योंकि रहवासियों को कमरे से काफी बदबू आ रही थी। जिसके बाद पुलिस को सूचना दी गई और पुलिस ने कमरे का दरवाजा तोड़कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा दिया है। वहीं परिजनों को सारी जानकारी दे दी गई है।

पढ़ाई में लगाता था ध्यान

मृतक इलाके के महाराजा रणजीत सिंह कॉलेज में बीएससी कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई कर रहा था और तीन दिन पहले ही उसने अपनी मां से बात की थी। वह काफी खुश था लेकिन उसने साड़ी पहनकर आत्महत्या क्यों की यह पुलिस और परिवार के लिए बड़ा सवाल बन गया है। मृतक पुनीत मूलतः रायसेन का रहने वाला बताया जा रहा है। वह इंदौर में एक साल पहले से किराए का कमरा लेकर रह रहा था। वह नीट की तैयारी में लगा हुआ था। रोज सुबह कोचिंग क्लास चला जाता और केवल पढ़ाई में ही अपना पूरा ध्यान लगाता था। ऐसे में परिजनों को भी यह बात समझ नहीं आ रही है कि उसने इस तरह का कदम क्यों उठाया। 

हाथ बंधे और आंखों पर पट्टी यह खड़े करती है कई सवाल

परिजनों को शक है कि पुनीत की आंखों पर पट्टी और हाथ बंधे हुए थे। वहीं शव के पास काफी खून भी बिखरा हुआ था। पुलिस वर्तमान में पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के इंतजार में है, लेकिन आंखों पर पट्टी और हाथ बंद होने के बाद उसने इस तरह का कृत्य क्यों किया इसका पता रिपोर्ट आने के बाद ही चल पाएगा।