फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशBJP विधायक ने अपने ही बेटे को भिजवाया जेल, क्या थी वजह?

BJP विधायक ने अपने ही बेटे को भिजवाया जेल, क्या थी वजह?

मध्य प्रदेश की पिछोर विधानसभा सीट से विधायक ने अपने ही बेटे को जेल भिजवा दिया है। विधायक अपने बेटे की गुंडागर्दी से परेशान हो गए थे। उन्होंने बेटे से मतलब ना रखने का ऐलान भी किया था।

BJP विधायक ने अपने ही बेटे को भिजवाया जेल, क्या थी वजह?
Mohammad Azamलाइव हिंदुस्तान,ग्वालियरFri, 05 Jan 2024 07:17 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश की पिछोर विधानसभा सीट से विधायक ने अपने ही बेटे को पुलिस के हवाले कर दिया। हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में प्रीतम लोधी ने भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ा था। इन चुनावों में उन्हें जीत मिली थी। उनकी जीत के बाद काफी चर्चा में रहे थे। बेटे को पुलिस को सौंपने के बाद विधायक एक बार फिर से चर्चा में हैं। आइये जानते हैं पूरा मामला कि आखिर एक विधायक को अपने ही बेटे को जेल क्यों भिजवाना पड़ा है...

 बताया जा रहा है कि हाल ही में पिछोर विधायक प्रीतम लोधी के बेटे दिनेश लोधी ने अपने विरोधी कुन्ना सिर्फ जान से करने का प्रयास किया था। इस दौरान दिनेश ने घर के बाहर खड़ी स्कूटर को भी अपनी चार पहिया वाहन से कुचल दिया था। इस घटना में वहां खड़े बच्चों को भी चोट आई थी। यह पूरा वाक्य सीसीटीवी कैमरे में भी रिकॉर्ड हुआ था। फुटेज के आधार पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी विधायक बेटे और उसकी चार पहिया वाहन को भी जब्त कर लिया था। इसके अलावा भी दिनेश पर धमकाने करने जैसे कई और भी मामले चल रहे हैं। दिनेश की हरकतों से तंग आकर विधायक ने अपने बेटे को पुलिस के हवाले कर दिया और उसपर सख्त कार्रवाई करने का आग्रह भी किया। 

विधायक बोले अपराधी की कोई जाति और धर्म नहीं
अपने बेटे को पुलिस के पास लेकर पहुंचे पिछोर विधायक प्रीतम लोधी ने कहा कि अपराध रोकने के लिए मेरे बेटे पर सख्त कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि अपराधी की कोई जाति नहीं होती और अपराधी का कोई रिश्ता भी नहीं होता। अपराधी, अपराधी होता है मेरे लड़के ने अपराध किया है, इसलिए मैं उसे स्वयं पुलिस के हवाले कर रहा हूं। इसके अलावा उन्होंने कहा कि मैं अपराध के विरोध में हूं और हमेशा रहूंगा।
 
सोशल मीडिया पर भी कर चुके हैं विरोध
गौरतलब है कि अपराधी प्रवृत्ति अपनाने वाले दिनेश लोधी का विरोध उसके पिता विधायक प्रीतम लोधी कई बार कर चुके हैं। इतना ही नहीं कुछ महीने पहले सोशल मीडिया पर भी उन्होंने अपने बेटे से दूरी बनाने की पोस्ट डाली थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि दिनेश से मेरा कोई लेना-देना नहीं है और इससे किसी भी प्रकार का लेनदेन ना करें। उन्होंने कहा था कि यदि मेरे नाम पर कोई लेनदेन करता है उसका स्वयं जिम्मेदार होगा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें