फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मध्य प्रदेशएमपी में गढ़ बरकरार रखने को BJP ने बनाई रणनीति, कार्यकारिणी की बैठक में 200 सीटें जीतने का लक्ष्य

एमपी में गढ़ बरकरार रखने को BJP ने बनाई रणनीति, कार्यकारिणी की बैठक में 200 सीटें जीतने का लक्ष्य

Madhya Pradesh Assembly Elections 2023: मध्य प्रदेश में इस साल होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर भाजपा की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक हुई। इसमें भाजपा ने 200 सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है।

एमपी में गढ़ बरकरार रखने को BJP ने बनाई रणनीति, कार्यकारिणी की बैठक में 200 सीटें जीतने का लक्ष्य
Krishna Singhभाषा,भोपालWed, 25 Jan 2023 12:12 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

भाजपा ने मध्य प्रदेश में इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव में 230 में से 200 सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है। भोपाल में मंगलवार को पार्टी कार्यालय में भाजपा की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में मध्य प्रदेश में भाजपा के प्रभारी मुरलीधर राव ने कहा कि दिसंबर में होने वाले चुनाव के लिए पार्टी के पास ज्यादा समय नहीं बचा है। इस बैठक में रोडमैप तैयार कर और 200 दिन में इसे लागू कर 200 सीटें जीतने का लक्ष्य रखा गया।

इस बैठक के दौरान केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने मध्य प्रदेश को बीमारू श्रेणी से बाहर निकालने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश को 2003 तक बीमारू राज्य माना जाता था। लेकिन उमा भारती, बाबूलाल गौर (दोनों पूर्व मुख्यमंत्री) और वर्तमान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में भाजपा की सरकारों ने मध्य प्रदेश को विकास के मार्ग पर तेजी से आगे बढ़ाया है।

तोमर ने कहा कि कई देश भारत की ओर बड़ी उम्मीद से देख रहे हैं क्योंकि उन्हें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व पर भरोसा है। कभी बीमारू राज्य रहा मध्य प्रदेश भी अब तेजी से विकास के रास्ते पर चल पड़ा है। इंदौर में प्रवासी भारतीय सम्मेलन और ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के सफल आयोजन के साथ मध्य प्रदेश ने सारी दुनिया में अपनी श्रेष्ठता स्थापित की है। 

नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि मुख्यमंत्री चौहान के प्रयासों से जीआईएस में 15.40 लाख करोड़ से अधिक के करार हुए, जो एक बड़ी सफलता है। इतने निवेश से प्रदेश में 29 लाख रोजगार पैदा होंगे। वहीं केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रवासी भारतीय सम्मेलन और जीआईएस कार्यक्रमों के सफल आयोजन के लिए सरकार की खुलकर तारीफ की और कहा कि मध्य प्रदेश ने केंद्र द्वारा सौंपी गई सभी जिम्मेदारियों को हमेशा पूरा किया है।

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि दुनिया के विभिन्न देशों में रह रहे 3.5 करोड़ भारतीय मूल के लोगों ने भारत के प्रति दुनिया के रुख को बदला है। माइक्रोसॉफ्ट और गूगल के सीईओ से लेकर ब्रिटिश प्रधानमंत्री तक भारतीय मूल के हैं और इन प्रवासी भारतीयों ने सारी दुनिया में भारत का झंडा थाम रखा है। बैठक में चुनावी रोडमैप पर मंथन हुआ। 

वर्ष 2018 के चुनावों में कांग्रेस ने 114 सीटें जीती थीं और भाजपा के खाते में 109 सीटें आई थीं। कमलनाथ के नेतृत्व में कांग्रेस ने सपा और बसपा तथा निर्दलीय विधायकों के समर्थन से गठबंधन सरकार बनाई थी हालांकि मार्च 2020 में कांग्रेस के विधायकों के एक समूह के भाजपा में शामिल होने से कांग्रेस सरकार गिर गई। चौहान पहली बार नवंबर 2005 में मुख्यमंत्री बने थे।