फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेश'जेल जाने के बाद केजरीवाल अपना...'; 75 साल वाले बयान पर बढ़ा घमासान, शिवराज ने ऐसे किया पलटवार

'जेल जाने के बाद केजरीवाल अपना...'; 75 साल वाले बयान पर बढ़ा घमासान, शिवराज ने ऐसे किया पलटवार

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) प्रमुख अरविंद केजरीवाल के 75 साल वाले बयान ने भाजपा और आम आदमी पार्टी (आप) नेताओं के बीच अब एक और नई जुबानी जंग छेड़ दी है।

'जेल जाने के बाद केजरीवाल अपना...'; 75 साल वाले बयान पर बढ़ा घमासान, शिवराज ने ऐसे किया पलटवार
Praveen Sharmaविदिशा (मध्य प्रदेश)। एएनआई Sun, 12 May 2024 10:11 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) प्रमुख अरविंद केजरीवाल के 75 साल वाले बयान ने भाजपा और आम आदमी पार्टी (आप) नेताओं के बीच नई जुबानी जंग छेड़ दी है। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को केजरीवाल की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि जेल जाने के बाद अरविंद केजरीवाल ने अपना मानसिक संतुलन खो दिया है।

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि जेल जाने के बाद अरविंद केजरीवाल ने अपना मानसिक संतुलन खो दिया है। फिलहाल वह जमानत पर हैं और वह भी केवल चुनाव तक। भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं के लिए राजनीति कोई पद पाने या स्वार्थ साधने का माध्यम नहीं है। हम देश की सेवा के लिए राजनीति करते हैं और हम लोगों के कल्याण और विकास के लिए काम करते हैं। पार्टी हमें जो भी काम देती है, हम उसे पूरी निष्ठा, मेहनत और ईमानदारी से करते हैं।

उन्होंने कहा कि अपनी सीट छोड़कर भी मैं मध्य प्रदेश की कई लोकसभा सीटों पर गया हूं और पार्टी के लिए प्रचार किया है। हम सभी प्रधानमंत्री के नेतृत्व में काम कर रहे हैं। भ्रष्टाचार हटाने की बात करके सत्ता में आए केजरीवाल आज खुद ही भ्रष्टाचार में फंस गए हैं।

इससे पहले 'आप' के राष्ट्रीय संयोजक केजरीवाल ने दावा किया था कि पीएम मोदी गृह मंत्री अमित शाह को अगला प्रधानमंत्री बनाने के लिए रास्ता बना रहे हैं। उन्होंने कहा था कि अगर फिर से भाजपा की सरकार बनी तो पहले वो उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को निपटाएंगे और फिर अमित शाह को देश का प्रधानमंत्री बनाएंगे। पीएम मोदी अमित शाह के लिए वोट मांग रहे हैं। क्या अमित शाह मोदी की गारंटी पूरी करेंगे? 

उन्होंने कहा था कि यदि वे चुनाव जीते तो किसी भी भाजपा नेता को नहीं छोड़ेंगे। उन्होंने लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और सुमित्रा महाजन को राजनीतिक तौर पर खत्म कर दिया। उन्होंने शिवराज सिंह चौहान की राजनीति खत्म कर दी, जिन्होंने उनके लिए मध्य प्रदेश चुनाव जीता, लेकिन उन्होंने शिवराज चौहान को मुख्यमंत्री नहीं बनाया। उन्होंने वसुंधरा राजे, खट्टर (मनोहर लाल), रमन सिंह को भी राजनीतिक रूप से खत्म कर दिया। अगले नंबर पर योगी आदित्यनाथ हैं। अगर वे यह चुनाव जीतते हैं, तो 2 महीने के भीतर वे उत्तर प्रदेश में सीएम बदल देंगे।