फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेशबोरिया बिस्तर बांधकर नहीं जाऊंगा, छिंदवाड़ा में हार के बाद नकुल नाथ ने बताया अगला लक्ष्य

बोरिया बिस्तर बांधकर नहीं जाऊंगा, छिंदवाड़ा में हार के बाद नकुल नाथ ने बताया अगला लक्ष्य

लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद नकुल नाथ छिंदवाड़ा पहुंचे। कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि जिस तरह से 40 सालों से आपने हमारे परिवार का साथ दिया है, आगे भी हमारा रिश्ता बना रहेगा।

बोरिया बिस्तर बांधकर नहीं जाऊंगा, छिंदवाड़ा में हार के बाद नकुल नाथ ने बताया अगला लक्ष्य
leaders
Subodh Mishraलाइव हिन्दुस्तान,छिंदवाड़ाWed, 05 Jun 2024 07:30 PM
ऐप पर पढ़ें

छिंदवाड़ा लोक सभा सीट हारने के बाद नकुल नाथ छिंदवाड़ा पहुंचे। उनके साथ पिता कमल नाथ भी थे। नकुल नाथ ने कहा कि जिस तरह से 40 सालों से आपने हमारे परिवार का साथ दिया है, आगे भी हमारा रिश्ता बना रहेगा। नकुल नाथ ने कहा कि वह बोरिया बिस्तर छोड़कर कहीं नहीं जाने वाले। वे दिल्ली जाएंगे लेकिन दोबारा लौट कर आएंगे।

नकुल नाथ ने बताया कि उनका अगला लक्ष्य अमरवाड़ा विधानसभा क्षेत्र रहेगा, जहां से उन्हें हर हाल में कांग्रेस प्रत्याशी को जिताना है। उन्होंने सभी नेताओं से आह्वान  किया कि वह अपना क्षेत्र छोड़कर अमरवाड़ा विधानसभा की जीत के लिए जुट जाएं। अमरवाड़ा चुनाव में जब हम जीतेंगे तब मैं समझूंगा कि आप सब ने अपना फर्ज अदा कर दिया। नकुल नाथ ने कार्यकर्ताओं को धन्यवाद देते हुए कहा कि छिंदवाड़ा के इतिहास में आप लोगों ने ऐसा चुनाव कभी नहीं देखा होगा। यह तो केवल एक पद है। हमारे आपके तो 45 साल का रिश्ता है। मैं हमेशा कहता हूं कि यह राजनीतिक रिश्ता नहीं बल्कि पारिवारिक रिश्ता है।

वहीं, कमल नाथ ने भावुक बयान देते हुए कहा कि मेरा और आपका पारिवारिक संबंध है। छिंदवाड़ा की जनता ने मुझे जो विदाई दी है, वह मुझे स्वीकार है। कमल नाथ का कहना था कि वही भूमिका रहेगी, जो अब तक थी। कहा कि हम हार के कारणों की समीक्षा करेंगे और छिंदवाड़ा में कांग्रेस को नई ऊंचाई पर ले जाएंगे। पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने बेटे नकुल नाथ की हार पर कहा कि छिंदवाड़ा की जनता ने मुझे जो विदाई दी है, वह मुझे स्वीकार है।

कमल नाथ ने कार्यकर्ताओं से कहा कि दिल्ली की बैठक छोड़कर छिंदवाड़ा आए हैं, सिर्फ यह कहने के लिए कि जो परिणाम सामने आए हैं, उसका किसी को विश्वास नहीं था। हमें ही इस परिणाम का पोस्टमार्टम करना है, कोई दूसरा नहीं करेगा। कांग्रेस जिला अध्यक्ष विश्वनाथ ओकटे ने अपना इस्तीफा कमल नाथ को सौंप दिया था, जिसे कमल नाथ ने भोपाल लौटते समय उन्हें कांग्रेस संगठन के लिए काम करने की बात कह कर अस्वीकार कर दिया। कमल नाथ ने कार्यकर्ताओं से सीधे तौर पर संवाद करते हुए कहा कि जिसे जो शिकायत होगी, वो सीधे तौर पर मुझे कहें। मुझे मेल भी कर सकते हैं। 

पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कमल नाथ ने कहा कि मोदी जी कहते थे 400 पार, लेकिन उनकी केवल 240 सीट आई है। हमारे गठबंधन को भी अच्छी सीट आई है। अब यह आने वाली राजनीति को एक नई दिशा देगी। इंडिया गठबंधन द्वारा सरकार बनाने के सवाल पर उन्होंने कहा अभी तो उनका गठबंधन है। गठबंधन से यदि कोई हटता है तो फिर सोचा जाएगा ।

रिपोर्टः विजेन्द्र यादव