फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशथाने के सामने AAP पार्षद को महिलाओं ने चप्पल से पीटा, हैरान कर देगी वजह

थाने के सामने AAP पार्षद को महिलाओं ने चप्पल से पीटा, हैरान कर देगी वजह

AAP पार्षद को लेकर महिलाओं का आरोप है कि जुगल मेहरा ने प्रधानमंत्री आवास योजना में किस्त डलवाने के नाम पर 10-10 हजार रुपये की रिश्वत मांगी थी। जिसे लेकर महिलाएं नाराज थीं और उन्होंने उनकी पिटाई कर दी।

थाने के सामने AAP पार्षद को महिलाओं ने चप्पल से पीटा, हैरान कर देगी वजह
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,श्योपुरSun, 25 Feb 2024 05:16 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश में कुछ महिलाओं ने आम आदमी पार्टी (Aam Adami Party)के एक पार्षद की पिटाई कर दी। बताया जा रहा है की करीब एक दर्जन महिलाओं ने दुकान के बाहर बैठे नगर पालिका के वार्ड पार्षद को पड़कर उनकी चप्पलों से पिटाई की है। इस दौरान महिलाओं ने पार्षद पर काम कराने के एवज में रिश्वतखोरी करने के आरोप भी लगाए हैं। AAP पार्षद की पिटाई का वीडियो भी सामने आया है। इस वीडियो में महिलाएं पार्षद को चप्पलों से पीटती हुई नजर आ रही हैं और लोगों की भीड़ तमाशा देख रही है।

मामला कोतवाली थाने के ठीक सामने का है, जहां शहर के वार्ड 14 के पार्षद जुगल मेहरा के साथ उनके वार्ड की कुछ महिलाओं ने चप्पलों से मारपीट की है। इस दौरान पार्षद खुद को बचाने की कोशिश करते रहे लेकिन, महिलाएं उन्हें चप्पलों से पीटती रहीं। बाद में लोगों की भीड़ के समझाने पर महिलाएं वहां से चली गईं। इस मामले में AAP पार्षद ने मामले की शिकायत कोतवाली थाने में की है।

AAP पार्षद पर घूस लेने का आरोप

कुछ मीडिया रिपोर्ट में बताया जा रहा है कि AAP पार्षद को लेकर महिलाओं का आरोप है कि जुगल मेहरा ने प्रधानमंत्री आवास योजना में किस्त डलवाने के नाम पर 10-10 हजार रुपये की रिश्वत मांगी थी। जिसकी वजह से महिलाएं नाराज थीं। शनिवार को नगर पालिका में विकसित भारत संकल्प यात्रा का कार्यक्रम था। इस कार्यक्रम में जुगल मेहरा भी शामिल हुए थे। जिसके बाद महिलाओं ने अचानक जुगल मेहरा को पकड़ लिया और फिर मारपीट शुरू हो गई।

AAP पार्षद ने दी सफाई

इस बारे में वार्ड पार्षद जुगल मेहरा का कहना है कि, वह तो दुकान की बाहर बैठे थे तभी कुछ महिलाओं ने उनके साथ मारपीट और अभद्रता की है। उन्होंने सफाई देते हुए कहा है कि  महिलाओं द्वारा इस तरह के आरोप गलत लगाए गए हैं। उन्होंने कहा, 'यह मेरे खिलाफ षड्यंत्र है। मैंने ऐसी शिकायत कोतवाली थाने में पहुंचकर की है। इस बारे में श्योपुर एसडीओपी राजीव कुमार गुप्ता का कहना है, 'मुझे आपके द्वारा इस बारे में बताया गया है। अगर थाने पर इस तरह की कोई शिकायत आई होगी या वीडियो होगा तो नियमों सरकार की जाएगी।'

रिपोर्ट : अमित गौर

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें