DA Image
26 सितम्बर, 2020|8:18|IST

अगली स्टोरी

फीस के दबाव में 10वीं के छात्र ने लगाई फांसी, स्कूल का आरोपों से इनकार

कोरोना महामारी के चलते एक ओर मध्य प्रदेश सरकार द्वारा सभी निजी स्कूल और कॉलेजों को आदेश दिए गए थे कि किसी भी प्रकार की अतिरिक्त फीस बच्चों से न वसूली जाए। इसके बावजूद स्कूल संचालकों पेरेंट्स और बच्चों पर फीस वसूली का दबाव बना रहे हैं। 

मुरैना से इंदौर में पढ़ाई करने आए दसवीं के एक छात्र ने सोमवार देर रात अपने जीजा के घर में स्कूल फीस भरने के तनाव में फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतक के परिजन का कहना है कि स्कूल संचालक लगातार उस पर फीस भरने का दबाव बना रहे थे। वहीं, स्कूल प्रबंधन ने फीस के लिए दबाव बनाने के आरोपों को गलत बताया है।

इंदौर के लसूड़िया थाना छेत्र के महालक्ष्मी नगर में रहने वाले दसवीं कक्षा में पढ़ने वाले हरेंद्र सिंह गुर्जर नामक छात्र ने देर रात फांसी लगाकर आत्म हत्या कर ली। परिजन ने बताया कि स्कूल प्रचार्या रोज फीस भरने का दबाव बना रही थीं। फीस नहीं भरने के कारण मृतक हरेंद्र सिंह गुर्जर को प्राचार्य द्वारा टीसी ले जाने तक की धमकी दी जा रही थी। इससे डिप्रेशन में आकर छात्र ने देर रात आत्महत्या कर ली। हरेंद्र सिंह गुर्जर लसूड़िया स्थित ग्रीन फ़ील्ड  स्कूल में पढ़ाई कर रहा था।

वहीं, स्कूल के हेड एडमिनिस्ट्रेशन रौनक मित्तल ने कहा कि छात्र हरेंद्र की फीस को लेकर जो भी स्कूल प्रबंधन पर आरोप लगाए गए हैं, वे गलत हैं। उसे तो बस ऑनलाइन क्लास में बैठने की तैयारी रखने के लिए फोन किया गया था। इस संबंध में एएसआई धर्मेंद्र सरवरिया का कहना है कि अभी कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। स्कूल प्रबंधन को बयान के लिए बुलाकर जांच करेंगे। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:10th student hanged under fee pressure school denies charges in Indore