when in 1977 Chaudhary Charan Singh said if leader is corrupt should be defeated - किस्सा 1977 का: जब चौधरी चरण सिंह ने कहा नेता बेईर्मान हो तो हरा देना DA Image
22 नवंबर, 2019|10:57|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किस्सा 1977 का: जब चौधरी चरण सिंह ने कहा नेता बेईर्मान हो तो हरा देना

chaudhary charan singh

वर्ष 1977 में बांसगांव से सांसद रहे फिरंगी प्रसाद आज भी साइकिल से चलते हैं। अपने दौर के चुनाव प्रचार का एक किस्सा अक्सर सुनाते हैं। एक बार चौधरी चरण सिंह उनके प्रचार के लिए आए थे। चौरीचौरा रेलवे स्टेशन के सामने उनकी सभा थी। उन्होंने मंच पर बैठे फिरंगी प्रसाद का हाथ पकड़कर उन्हें सीट से उठाया और कहा, ‘यदि मेरा प्रत्याशी बेइमान हो तो उसे जरूर हरा देना।'

इस वाकये का जिक्र कर फिरंगी प्रसाद कहते हैं, ‘तब के नेता प्रचार में नैतिकता, ईमानदारी और आदर्श को सबसे ऊपर रखते थे। उनका चुनावी भाषण बहुत संयमित और मर्यादित होता था। आज तो सियासी सूरमा अपने प्रत्याशी को जिताने के लिए किसी भी स्तर पर चले जाते हैं।'

चौधरी चरण सिंह की उस सभा में बड़ी संख्या में लोग पहुंचे थे। उन्होंने जब फिरंगी प्रसाद को खड़ा किया तो भीड़ से आवाज उठी,‘इन पर कोई आरोप नहीं है।' बाद में फिरंगी प्रसाद चुनाव जीत गए। उन्हें क्षेत्र में पड़े कुल वोट का 75 फीसदी हासिल हुआ, जो कि अपने आप में एक रिकॉर्ड है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:when in 1977 Chaudhary Charan Singh said if leader is corrupt should be defeated