WB Security personnel use lathi charge and tear gas on locals as miscreants allegedly prevented voters from casting their votes at Digirpar polling booth - पश्चिम बंगाल: CPM प्रत्याशी मोहम्मद सलीम की कार पर हमला, ममता की पार्टी पर लगा ये आरोप DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पश्चिम बंगाल: CPM प्रत्याशी मोहम्मद सलीम की कार पर हमला, ममता की पार्टी पर लगा ये आरोप

attack on cpm candidate s car in raiganj wb

1 / 2attack on CPM candidate's car in raiganj WB

lathi charge in islampur west bengal

2 / 2lathi charge in islampur west bengal

PreviousNext

पश्चिम बंगाल की दार्जलिंग, जलपाईगुड़ी और रायगंज लोकसभा सीटों पर गुरुवार को दूसरे चरण के मतदान के दौरान दोपहर तक करीब 35 फीसदी मतदान दर्ज किया गया। इन तीन सीटों पर कुल 42 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं और मतदाताओं की संख्या 49,32,346 है जिनके लिए 5390 मतदान केंद्र स्थापित किये गये हैं। इस बीच रायगंज निवार्चन क्षेत्र में छिटपुट हिंसा की घटनाएं भी हुई है।


समाचार एजेंसी वार्ता के अनुसार दोपहर तक जलपाईगुड़ी में 36.22 फीसदी, दाजीर्िंलग में 30.12 फीसदी और रायगंज में 34.01 फीसदी मतदान दर्ज किया गया। दार्जलिंग और जलपाईगुड़ी निवार्चन क्षेत्र में मतदान करने वालों में चाय बागान श्रमिकों की संख्या अधिक रही जबकि रायगंज निवार्चन क्षेत्र में मुसलमान समुदाय के लोगों की सख्या अधिक देखी गई। इस बीच, मतदान के दौरान राज्य में उत्तर दिनाजपुर जिले से हिंसा की कई घटनाओं की रिपोर्ट मिली हैं।

रायगंज से सांसद एवं मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) उम्मीदवार मोहम्मद सलीम एक हमले में घायल हो गये हैं। उनकी कार पर पत्थर फेंके गये जिसमें उनका चालक भी घायल हो गया है।

 

 

इससे पहले रायगंज लोकसभा क्षेत्र में ही एक बूथ पर हिंसा की घटना सामने आई। पश्चिम बंगाल में लोगों को कथिततौर से मतदान करने से रोकने के लिए हिंसा की खबरे हैं। सुरक्षा बलों ने बेकाबू भीड़ को काबू करने के लिए स्थानीय लोगों पर लाठी चार्ज किया और आंसू गैस के गोले भी दागे।

समचार एजेंसी एएनआई के अनुसार,  घटना पश्चिम बंगाल के उत्तरी दिनाजपुर में इस्लामपुर इलाके की है। जहां दिगिरपार गांव के पोलिंग बूथ पर लोगों को वोट डालने से रोका गया। हिंसा करने वाले लोग बिना किसी खास वजह से नेशनल हाईवे -34 पर जाम लगा रहे थे। आरोप है इसी बीच कुछ असमाजिक तत्व लोगों को वोट डालने से रोक रहे थे।

पोलिंग बूथ पर मौजूद सुरक्षा बलों को भीड़ पर लाठी चार्ज करना पड़ा और आंसू गैस के गोले भी दागने पड़े।.

रोचक: इस बार साढ़े छह लाख कृष्ण और नौ लाख अर्जुन चुनेंगे सरकार

लोकसभा चुनाव 2019: मतदान में सबसे आगे भारत के ये राज्य, देखें फिसड्डी राज्यों की लिस्ट

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:WB Security personnel use lathi charge and tear gas on locals as miscreants allegedly prevented voters from casting their votes at Digirpar polling booth