uttarakhand leaders assigned campaigning responsibilities for other state after lok sabha election 2019 voting was done in uttarakhand - Lok Sabha Election 2019: अपना निपटा अब दूसरे राज्यों में प्रचार का जिम्मा DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Lok Sabha Election 2019: अपना निपटा अब दूसरे राज्यों में प्रचार का जिम्मा

bjp congress

कार्यकर्ता तैयार 
उत्तराखंड में लोकसभा चुनाव के लिए पहले चरण में मतदान के बाद अब भाजपा और कांग्रेस के स्थानीय सूरमा दूसरे राज्यों में अपनी-अपनी पार्टियों के लिए प्रचार करेंगे। पार्टी इनके कार्यक्रम तय कर रही है। भाजपा की सूची में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत, पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी, डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक, विजय बहुगुणा, कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज समेत अन्य कैबिनेट मंत्रियों और पदाधिकारियों को जगह दी गई है। त्रिवेंद्र रावत उत्तर प्रदेश, दिल्ली, झारखंड आदि राज्यों में प्रचार के लिए जा सकते हैं, जब कि कोश्यारी, निशंक, बहुगुणा व महाराज को अन्य प्रदेशों में प्रचार की जिम्मेदारी सौंपी जा सकती है। विभिन्न राज्यों के जिन क्षेत्रों में उत्तराखंड के लोग बड़ी संख्या में हैं, इन सभी के लिए प्रमुख तौर पर उन्हीं क्षेत्रों में कार्यक्रम तय किए जाने की संभावना है।  पार्टी के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष नरेश बंसल ने बताया कि गढ़वाल संसदीय सीट से प्रत्याशी तीरथ सिंह रावत अब हिमाचल प्रदेश में प्रचार की कमान संभालेंगे। एक पखवाड़े से ज्यादा समय वे अपने संसदीय क्षेत्र में प्रचार में व्यस्त रहे। भाजपा के 52 विस्तारक दो-तीन दिन में पश्चिम बंगाल रवाना हो जाएंगे। इनके नाम तय हो गए हैं। इन्हें वहां चुनाव प्रबंधन की जिम्मेदारी दी जाएगी। राज्य से भाजपाइयों की टोलियां ओडिशा व छत्तीसगढ़ भी जाएंगी। 

 

कमर कसी 
कांग्रेसी नेता और पदाधिकारी भी अब दूसरे राज्यों में प्रचार के लिए रवाना होंगे। पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत पर असोम के प्रभारी होने के नाते प्रचार का जिम्मा रहेगा। प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह हिमाचल में प्रचार करेंगे। उत्तराखंड में पहले चरण में चुनाव संपन्न होने के बाद अब राज्य के कांग्रेसी फुर्सत में हैं। देशभर में अभी लोकसभा चुनाव के छह चरण शेष हैं। ऐसे में उत्तराखंड के कांग्रेसी नेताओं की अन्य राज्यों में चुनाव प्रचार के लिए जिम्मेदारी तय की  जा रही है। उत्तराखंड के विधायकों का दूसरे राज्यों में कहां-कहां कांग्रेस पार्टी बेहतर उपयोग कर सकती है, इसका ब्योरा तैयार किया जा रहा है। प्रीतम सिंह ने कहा कि हाईकमान के निर्देशानुसार उत्तराखंड से कांग्रेस पदाधिकारी दूसरे राज्यों में प्रचार और चुनाव में जिम्मेदारी निभाने को तैयार हैं। इसके लिए पार्टी विधायकों और पदाधिकारियों की जिम्मेदारी तय की जाएगी। कुछ कांग्रेसी पदाधिकारी जल्द हिमाचल में प्रचार को रवाना होंगे। उधर हल्द्वानी में हरीश रावत गुरुवार देर रात तक रामपुर रोड स्थित होटल में कांग्रेस कार्यकर्ताओं से चुनावी समीकरणों पर चर्चा करते रहे। शुक्रवार सुबह चार बजे वह दिल्ली के लिए रवाना हो गए। रावत के चुनाव मीडिया को-ऑर्डिनेटर कमान सिंह धामी ने बताया कि रावत दिल्ली से दोपहर 12.15 बजे की फ्लाइट से असोम रवाना हुए। 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:uttarakhand leaders assigned campaigning responsibilities for other state after lok sabha election 2019 voting was done in uttarakhand