DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:
asianpaints

UP Lok Sabha Election Results:सबसे ज्यादा और सबसे कम वोटों के अंतर से जीत में काशी के वोटरों का अहम योगदान

पूर्वांचल में इस बार सबसे ज्यादा और सबसे कम वोटों से जीतने का रिकार्ड बन गया। दोनों ही रिकार्ड बनाने में वाराणसी के वोटरों की ही अहम भूमिका रही। वाराणसी से मुकाबले में उतरे भाजपा प्रत्याशी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने करीब पौने पांच लाख मतों से जीत हासिल कर अपने पिछले रिकार्ड को ही ध्वस्त कर दिया। मछलीशहर से भाजपा प्रत्याशी बीपी सरोज ने केवल 181 वोटों से जीत हासिल की। बीपी सरोज भले ही मछलीशहर से सांसद बने लेकिन उन्हें वाराणसी जिले में पड़ने वाले पिंडरा विधानसभा क्षेत्र से सबसे ज्यादा बढ़त मिली। यह देश में किसी भी लोकसभा चुनाव में सबसे कम वोटों से जीत मानी जा रही है। पूर्वांचल में इससे पहले गाजीपुर में 402 वोटों से जीत हार का फैसला हुआ था। 

वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने  4 लाख 79 हजार 505 मतों से सपा की शालिनी यादव को हराया। पीएम मोदी ने पिछले चुनाव में अरविंद केजरीवाल को 3 लाख 85 हजार 334 मतों से हराया था। मछलीशहर सीट पर भाजपा के बीपी सरोज ने बसपा के टी राम को केवल 181 वोटों से हराकर सबसे कम वोटों से जीतने का भी रिकार्ड बना दिया। भाजपा के बीपी सरोज को 4 लाख 88 हजार 397 और टीराम 4 लाख 88 हजार 216 मत मिले । 

पूर्वांचल की वीआईपी सीट मानी जा रही आजमगढ़ और मिर्जापुर में भी चुनावी नतीजे बड़े अंतर से सामने आए। आज़मगढ़ से मैदान में उतरे सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा प्रत्याशी निरहुआ को 2 लाख 59 हजार 874 मतों से हराया। पिछले चुनाव में तत्कालीन सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव यहां से केवल 60 हजार मतों से ही जीत हासिल कर सके थे। मिर्जापुर में अपना दल (एस) की नेता अनुप्रिया पटेल ने भी दो लाख से ज्यादा मतों से जीत हासिल की है। अनुप्रिया ने सपा के रामचरित्र निषाद को 2 लाख 32 हजार 8 वोटों से हराया।

लालगंज, घोसी, गाजीपुर और सलेमपुर लोकसभा सीटों पर जीत का अंतर एक लाख से ज्यादा रहा। जौनपुर, राबर्ट्सगंज में जीत का अंतर एक लाख से कम और 50 हजार से ज्यादा रहा। भदोही जीत का अंतर 43 हजार 615 रहा। चंदौली और बलिया में जीत का अंतर 14 हजार से भी कम रहा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:UP Lok Sabha Election Results Kashi Voters Significant Contribution To Win With Most And Worst Votes