DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:
asianpaints

Lok Sabha Elections 2019- 40 पर पहुंचा पारा प्रत्याशियों के अभियान में बना ‘ब्रेकर’

अप्रैल के दूसरे सप्ताह में ही तापमान के चालीस डिग्री सेल्सियस पर पहुंच जाने से लोकसभा चुनाव के लड़ाके व उनके अभियान में शामिल कार्यकर्ताओं की मुश्किलें बढ़ गई हैं। गर्म मौसम उनके अभियान में ‘ब्रेकर’बन गया है। आग उगलती धूप में सभी वोट के लिए खाक छान रहे हैं। उनकी तबीयत नासाज हो रही है। अहले सुबह में भी गेहूं की कटनी व शाम में दौनी में लगे रहने से किसान-मजदूर मतदाताओं से भेंट नहीं हो रही है।

इन दिनों गोपालगंज, सीवान, महाराजगंज, पूर्वी चंपारण व वाल्मीकिनगर इलाके का अधिकतम तापमान 37 से 40 डिग्री के आस-पास रह रहा है।गर्म हवा व आग उगलती धूप के कारण दिन के ग्यारह बजे ही सड़कों पर सन्नाटा पसर गया। इन इलाके में लोकसभा चुनाव छठे चरण में 12 मई को  होने हैं। चुनाव की तिथि की उल्टी गिनती शुरू होने के साथ प्रत्याशियों में अधिक से अधिक मतदाताओं से संपर्क करने की होड़ सी मची हुई है। लेकिन मौसम के मिजाज से सभी पस्त हैं। 

नामांकन के बाद सारण व चंपारण के लोकसभा क्षेत्रों में ‘स्टार वार’ की तैयारी

लोकसभा चुनाव क्षेत्रों का तापमान

गोपालगंज -39

सीवान-   40

महाराजगंज- 40

मोतिहारी- 37

वाल्मीकिनगर-36

प्रत्याशी घर पर तो मतदाता खेत में

सुबह दस बजे ही गर्म हवा चलने से प्रत्याशी सुबह चार-पांच बजे ही क्षेत्र में जन संपर्क अभियान में निकल तो जा रहे हैं। लेकिन, इन दिनों गेहूं की कटनी शुरू हो जाने से किसान व मजदूर खेत में चले जा रहे हैं। शाम से देर रात तक सभी दौनी में लग जाते हैं। नतीजतन मतदाताओं से भेंट नहीं हो पा रही है। इससे प्रत्याशियों व उनके अभियान में शामिल कार्यकर्ताओं की बेचैनी बढ़ गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Temperature reaching 40 candidates breaker made in campaign