DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:
asianpaints

लोकसभा चुनाव: परिणाम से पहले भावी रणनीति पर चर्चा करेंगे विपक्षी दल

opposition parties meeting

विपक्षी दलों की बैठक लोकसभा चुनाव परिणाम घोषित होने से पहले यानी 21 मई को दिल्ली में हो सकती है। इस बैठक के जरिए विपक्षी दल एकजुटता का संदेश देंगे और भविष्य की रणनीति का खाका तैयार करेंगे। इसमें न्यूनतम साझा कार्यक्रम (सीएमपी) के प्रारूप पर भी चर्चा हो सकती है।

विपक्षी दलों की कोशिश है कि सीएमपी को अंतिम रुप देते हुए तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS), वाईएसआर कांग्रेस और बीजू जनता दल को अपने साथ लाने की कोशिश की जाए। अभी तक यह माना जा रहा है कि चुनाव में किसी गठबंधन को पूर्ण बहुमत नहीं मिलता है, तो टीआरएस और वाईएसआर कांग्रेस एनडीए का समर्थन कर सकते हैं।

मिल सकती है 100 सीटें
कांग्रेस का अंदरुनी आकलन है कि उसे 100 से अधिक सीटें मिलेंगी। किसी गठबंधन को पूर्ण बहुमत नहीं मिलता है, तो कांग्रेस की भूमिका अहम होगी। कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि ऐसे में पार्टी भाजपा को सत्ता से बाहर रखने के लिए हर मुमकिन कोशिश करेगी। यह सवाल किए जाने पर कि क्या कांग्रेस की अगुआई में सरकार का गठन हो सकता है, पार्टी नेता ने कहा कि इस बारे में निर्णय सभी से विचार-विमर्श के बाद किया जाएगा। 

चुनाव अलग-अलग, लक्ष्य एक
कांग्रेस सियासी नफा-नुकसान का आकलन के चलते ही सपा और बसपा गठबंधन के हमलों पर चुप है। पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि सपा और बसपा संसद में विपक्षी एकता का हिस्सा रहे हैं। यह ठीक है कि वह गठबंधन में अलग चुनाव लड़ रहे हैं, पर हम सभी का लक्ष्य एक है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Opposition parties will discuss the future strategy before Lok Sabha Elections 2019 results