DA Image
23 जनवरी, 2020|1:48|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

झटका : दिल्ली में आधे से ज्यादा प्रत्याशियों के पर्चे रद्द, जानें कारण

दिल्ली की सातों लोकसभा क्षेत्रों में दाखिल कुल नामांकनों में से 60 फीसद नामांकन स्क्रूटनी के दौरान निरस्त हो गए है। दिल्ली राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार बुधवार को प्राप्त नामांकनों की स्क्रूटनी की गई, जिसके बाद सभी सातों लोकसभा क्षेत्रों में 173 नामांकन ही सही पाए गए हैं।

दिल्ली में 12 मई को होने वाले मतदान के लिए 16 अप्रैल से नामांकन प्रक्रिया शुरू की गई थी, जो 23 अप्रैल मंगलवार तक आयोजित हुई। दिल्ली राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार दो दिन राजकीय अवकाश व एक दिन रविवार होने की वजह से कुल पांच दिन नामांकन प्रक्रिया आयोजित हुई। जिसमें सभी सातों लोकसभा सीटों पर कुल 439 नामांकन प्राप्त हुए। इन सभी प्राप्त नामांकनों की बुधवार को स्क्रूटनी की गई, जिसमें 266 नामांकन अधूरे-अपुष्ट पाए गए, जिन्हें निरस्त कर दिया गया है। जबकि 173 नामांकन ही सही पाए गए हैं। जिसके बाद सबसे अधिक 30 नामांकन दक्षिणी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र से हो गए हैं। 

'आप' की बस एक मांग, लेकर रहेंगे पूर्ण राज्य,ये हैं 12 बड़े चुनावी वादे

गुरुवार- शुक्रवार नाम वापस ले सकेंगे उम्मीदवार : दिल्ली राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार बुधवार को नामांकनों की स्क्रूटनी की प्रक्रिया पूरी हो गई है। इसके बाद दो दिन उम्मीदवारों को नाम वापसी के लिए दिए जाएंगे। जिसके तहत गुरुवार व शुक्रवार को नाम वापसी की प्रक्रिया आयोजित की जाएगी। उम्मीदवार तब तक नाम वापस ले सकते हैं। इसके बाद उम्मीदवारों को आखिरी सूची जारी की जाएगी। अंतिम सूची जारी होने के साथ ही राजधानी की सातों संसदीय सीटों पर चुनावी समय की स्थिति पूरी तरह स्पष्ट हो जाएगी। 

जांच के बाद यह है सातों सीटों की स्थिति

लोकसभा क्षेत्र प्राप्त नामांकन स्वीकार नामांकन
चांदनी चौक 63 26
उत्तर-पूर्वी 74 26
पूर्वी दिल्ली 66 27
नई दिल्ली 61 27
उत्तर-पश्चिमी दिल्ली 39 13
पश्चिमी दिल्ली 72 24
दक्षिणी दिल्ली 64 30

ये भी जानें : अपने पेशे में भी माहिर हैं दिल्ली के सियासी सूरमा

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:More than half of candidates in Delhi canceled their nomination know the reason