DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:
asianpaints

मधेपुरा लोकसभा चुनाव Live Voting: आज डाले जाएंगे वोट, तैयारी पूरी

sharad yadav and pappu yadav for madhepura lok sabha seat

मधेपुरा लोकसभा सीट पर आज होने वाले चुनाव को लेकर प्रशासनिक तैयारी पूरी कर ली गयी है। डिस्पैच सेंटरों से मतदान सामग्रियों को लेकर पोलिंग पार्टियां मतदान केंद्रों पर पहुंच गई है। जिला प्रशासन ने शांतिपूर्ण और स्वच्छ मतदान कराने की प्रतिबद्धता दोहरायी है। मधेपुरा लोकसभा सीट पर 13 उम्मीदवार अपना भाग्य आजमा रहे हैं। मधेपुरा के कुल 1884844 मतदाता प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे। इस सीट पर 13 प्रत्याशी जरूर चुनाव मैदान में हैं लेकिन मुख्य मुकाबला एनडीए के जदयू प्रत्याशी दिनेश चंद्र यादव, महागठबंधन के उम्मीदवार शरद यादव और जन अधिकार पार्टी के उम्मीदवार राजेश रंजन ऊर्फ पप्पू यादव के बीच ही मुख्य मुकाबला है।

शांतिपूर्ण निष्पक्ष चुनाव संपन्न कराने के लिए मधेपुरा संसदीय क्षेत्र में 1051 मतदान केंद्रों में कुल 1960 बूथ बनाए गए हैं। 640 बूथों को अंतिसंवेदनशील श्रेणी में रखा गया है। बूथों के साथ-साथ जिला सीमा क्षेत्र और जिले की सीमा से सटे नदियों में सुरक्षा के मद्देनजर गश्ती दल तैनात रहेगा। आठ या इससे अधिक दिव्यांग मतदाता वाले बूथ पर प्रशासन की ओर से व्ह्ील चेयर के अलावा वोलेंटियर को भी मदद के लिए तैनात किया गया है। ऐसे मतदाताओं के लिए ग्रीन चैनल की सुविधा दी गयी है। इन्हें प्राथमिकता देते हुए वोट डालने की सुविधा दी जाएगी। 

बूथों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम रहेंगे। चुनाव में सीएपी की 21 कंपनी को लगाया गया है। 46 प्रतिशत बूथों को सीएपी कवर करेगी। इसके अलावा अन्य सभी बूूथों पर डीएपी को तैनात किया गया है। बूथों पर वोटरों को कतारबद्ध कराने के लिए एक-एक होमगार्ड को लगाया गया है। चुनाव को लेकर 35 चेकपोस्ट बनाये गये हैं। जिला सीमा को सील रखने का आदेश दिया गया है। आलमनगर और चौसा प्रखंड क्षेत्र में घुड़सवार दस्ता को तैनात किया गया है। नदियों में पेट्रोलिंग की व्यवस्था भी की गयी है। इसके लिए पुलिस बल के साथ दो वोट को तैनात किया है। 

मधेपुरा संसदीय क्षेत्र में 640 बूथ अतिसंवेदनशील:

मधेपुरा संसदीय क्षेत्र की 640 बूथों को अतिसंवेदनशील और 972 बूथों को संवेदनशील बनाया गया है। मधेपुरा संसदीय क्षेत्र के आलमनगर विधानसभा की 332 बूथों में से 92 को अतिसंवेदनशील और 140 को संवेदनशील बनाया गया है। बिहारीगंज विधानसभा क्षेत्र के 301 बूथों में से 100 को अतिसंवेदनशील और 126 को संवेदनशील की श्रेणी में रखा गया है। मधेपुरा विधानसभा क्षेत्र के 341 बूथों में से 97 को अतिसंवेदनशील और 134 को संवेदनशील बनाया गया है। सोनवर्षा विधानसभा के 312 बूथों में से 141 अतिसंवेदनशील और 197 संवेदनशील घोषित किये गये हैं। सहरसा विधानसभा के 347 बूथों में से 74 अतिसंवेदनशील और 135 को संवेदनशील बनाया गया है। महिषी विधानसभा के 307 बूथों में से 136 को अतिसंवेदनशील और 240 को संवेदनशील बूथों की श्रेणी में रखा गया है। इसके अलावा सुपौल संसदीय क्षेत्र अंतर्गत मधेपुरा जिले के सिंहेश्वर विधानसभा के 311 बूथों में से 135 को अतिसंवेदनशील और 158 को संवेदनशील बूथ बनाया गया है।

नवदीप शुक्ला, डीएम, मधेपुरा  का कहना है कि लोकसभा चुनाव में शांति और निष्पक्ष मतदान कराने के लिए पुख्ता व्यवस्था की गयी है। बिना किसी भय के ज्यादा से ज्यादा मतदाताओं को लोकतंत्र की मजबूती के लिए अपने मताधिकार का प्रयोग करना चाहिए। 

संजय कुमार, एसपी, मधेपुरा का कहना है कि लोकसभा चुनाव को लेकर सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम किया गया है। अतिसंवेदनशी, संवेदनशील और दियारा क्षेत्र के मतदान केंद्रों पर सुरक्षा की विशेष व्यवस्था की गयी है। मतदाताओं को निर्भीक होकर अपने मताधिकार का प्रयोग करना चाहिए।

मधेपुरा में वोटरों की ताकत 

कुल वोटर- 1884844

पुरुष वोटर- 976988

महिला वोटर- 907825

2014 में मतदान प्रतिशत 

वर्ष 2014 में हुए मतदान में 60.02 फीसदी मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया था। पुरुषों का मतदान प्रतिशत 56.68 था। जबकि 61.61 फीसदी महिलाओं ने मताधिकार का प्रयोग किया था। इस बार मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए कई स्तर पर मतदाता जागरूकता अभियान चलाया गया। लोकतंत्र की मजबूती के लिए लोगों को मताधिकार का प्रयोग करने के लिए प्रेरित किया गया है। उम्मीद जतायी जा रही है कि पिछले साल की अपेक्षा इस बार मतदान प्रतिशत में वृद्धि होगी।

मधेपुरा सीट: 2014 का रिपोर्ट कार्ड 

राजेश रंजन ऊर्फ पप्पू यादव- राजद- 368937

शरद यादव- जदयू- 312728

विजय कुमार सिंह- भाजपा- 252534

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Madhepura Lok Sabha Election Live Voting sharad yadav pappu yadav in fight