DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लोकसभा चुनाव 2019 : गोरखपुर लोकसभा सीट के नतीजों पर होंगी देश की निगाहें

gorakhpur lok sabha seat

उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों में से एक गोरखपुर लोकसभा सीट को भारतीय जनता पार्टी का गढ़ कहा जाता है। पूर्वंचल की इस सीट पर पिछले तकरीबन 29 साल से बीजेपी का दबदबा रहा है। हालांकि 2018 में हुए उपचुनाव में उसका यह ताज समाजवादी और बहुजन समाज पार्टी गठबंधन के प्रत्याशी प्रवीण निषाद ने छीन लिया। 

इस सीट पर सातवें और अंतिम चरण में वोट डाले जाएंगे। सभी सीटों के नतीजे 23 मई को आएंगे। मगर इस सीट पर संभवत: पूरे देश की नजरें टिकी होंगी। इस सीट पर बीजेपी ने बॉलीवुड एक्टर रवि किशन को उम्मीदवार बनाया है। 

उपचुनाव में गठबंधन में सपा के कोटे में गई गोरखपुर सीट पर रामभुआल निषाद प्रत्याशी हैं। उत्तर प्रदेश सरकार में राज्यमंत्री और दो बार विधायक रहे हैं। पिछड़ों के बीच मजबूत पकड़ वाले नेता रामभुआल भाजपा को कांटे की टक्कर दे रहे हैं। गठबंधन के मूल वोटरों का हौसला भी उपचुनाव के परिणाम से बढ़ा-चढ़ा है। 

भाजपा मोदी के नाम, योगी के काम और गोरखपुर की दो साल में हुई तरक्की की बुनियाद पर चुनाव लड़ रही है। जबकि  गठबंधन ने जातिगत समीकरणों का मजबूत ताना-बाना बनाया है। इस सीट के पिछले चुनाव का लेखा-जोखा जानने के लिए इस चार्ट को देख सकते हैं : 

gorakhpur lok sabha seat
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lok sabha elections gorakhpur lok sabha seat results will be most awaited