DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:
asianpaints

लोकसभा चुनाव फ्लैश बैकः Varanasi 2014 में टूटते टूटते बचा 62 में बना सबसे ज्यादा वोटिंग का रिकार्ड

इसे चुनाव आयोग के मतदाता जागरूकता कार्यक्रमों का असर कहें या मतदाता सूची में लगातार बढ़ रहे युवा वोटर की संख्या, लेकिन यह सच है कि बीते एक दशक में हुए लोकसभा और विधानसभा चुनाव में बनारस में वोट प्रतिशत बढ़ा है। अगर केवल लोकसभा चुनाव की बात करें तो पिछले चुनाव में सबसे ज्यादा वोटिंग का रिकार्ड भी टूटते टूटते बचा था। यह रिकार्ड 1962 के लोकसभा चुनाव में बना था। तब वाराणसी में 63 प्रतिशत वोटिंग हुई थी। उसके बाद हमेशा 55 ये उससे कम ही मतदान हुआ। पिछले साल मोदी अौर केजरीवाल के वाराणसी आने से अचानक वोटिंग प्रतिशत में तेज उछाल आया।  

पूर्वांचल की प्रतिष्ठापरक सीटों में शुमार वाराणसी संसदीय क्षेत्र में मतदान के प्रतिशत पर नजर डालें तो वर्ष 1957 और 1962 के आम चुनाव के बाद यहां मतदान प्रतिशत साठ फीसदी का आंकड़ा पर नहीं कर सका। इसके बाद वर्षों में हुए आम चुनाव में भी वोटिंग प्रतिशत 40 से 55 फीसदी के बीच रहा। वर्ष 2009 में यहां लड़ाई रोचक होने के बावजूद मत प्रतिशत 42 फीसदी के पास ठिठका रहा। वर्ष 2012 के विधानसभा चुनाव से वोटिंग प्रतिशत ने रफ्तार पकड़ी और बनारस में कुल 57.18 फीसदी मतदान हुआ।  इसके बाद वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में इसमें मामूली ही सही लेकिन बढ़ोतरी हुई और मतदान का प्रतिशत 58.35 फीसदी पर पहुंच गया। इसके बाद वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में बनारस में 60.83 फीसदी मत पड़े थे। 

पिछले लोकसभा चुनावों में मत प्रतिशत

वर्ष            वोटिंग (%)    
1951        45.19
1957        62.67
1962        63.28
1967        49.49
1971        55.48
1977        55.83
1980        53.66
1984        54.94
1989        42.64
1991        44.79
1996        40.58
1996        47.18
2004         42.60     
2009         42.1
2014          58.35

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lok Sabha Elections Flashback Varanasi breaks in breaks in 2014 highest voting record in 62