DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:
asianpaints

लोकसभा चुनाव 2019: रामराज्य परिषद के प्रत्याशी का नामांकन रद होने पर स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद ने शुरू किया धरना

वाराणसी से रामराज्य परिषद के प्रत्याशी श्रीभगवान पाठक का नामांकन रद होने के कारण स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद ने बटुकों के साथ कलक्ट्रेट पर धरना शुरू कर दिया है। स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद ने पहले कलक्ट्रेट परिसर में ही स्थित नामांकन कक्ष पर ही धरना शुरू कर दिया था। फिर उन्हें कलक्ट्रेट से सौ मीटर दूर भेज दिया गया। संतों के संगठन ने श्रीभगवान को निर्दल प्रत्याशी के रूप में मैदान में उतारा था। प्रशासन की तरफ से हालांकि अभी तक कोई नामांकन रद होने की कोई आधिकारिक सूचना नहीं दी गई है।

द्वारका शारदापीठाधीश्वर शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती के शिष्य स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद ने मीडिया से कहा कि श्रीभगवान ने सनातनी धर्मियों की अोर से यहां नामांकन किया था। नरेंद्र मोदी के खिलाफ बहुत से लोग चुनाव लड़ने को उत्सुक हैं। वह चाहते हैं कि इस पटल पर खड़े होकर अपनी बात कहने का मौका मिले। लेकिन जबरदस्ती का कारण बनाकर उनका नामांकन खारिज कर दिया गया है। यह लोकतंत्र की हत्या हो रही है। 

स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद ने कहा कि मोदी सरकार के इशारे पर यह सब हो रहा है। वह नहीं चाहते कि काशी से कोई संत चुनाव लड़े। जिस तरह से काशी के मंदिरों को तोड़ा गया है उनका यहां विरोध हो रहा है। वह चाहते हैं कि जनता में हम अकेले ही जाएं, दूसरा कोई न जाए, जो वोट मिले हमें ही मिले। स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद ने कहा कि किसी अधिकारी से भी नहीं मिलने दिया जा रहा है। इसलिए हम सड़क पर आए हैं। 

 

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lok Sabha Elections 2019 Swamy Avimukteshwaranand started raising the nomination of the candidate of the Ramrajya Council