DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:
asianpaints

लोकसभा चुनाव 2019 : पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह पर मिशन-13 का दबाव

captain amrinder singh

पंजाब में इस बार सूबे के कैप्टन मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह पर मिशन - 13 की शानदार पारी खेलने का दबाव है। राज्य में कांग्रेस अपना घर दुरुस्त करने में जुटी है। यहां कांग्रेस में नवजोत सिंह सिद्धू का खेमा है जिसे कैप्टन को साधना होगा। पार्टी के एक कद्दावर नेता जगमीत बराड़ अकाली दल का दामन थाम चुके हैं।  राज्य में अन्य दल अपना प्रचार शुरू कर चुके हैं जबकि कैप्टन ने अभी प्रचार शुरू नहीं किया है।

पंजाब में 2017 विधानसभा का चुनाव शानदार तरीके से जीतकर कैप्टन ने यह एहसास कराया था कि कांग्रेस की जड़ें यहां मजबूत हैं। उन्हें बदले समीकरण के साथ पार्टी की अंदरूनी चुनौतियों से निपटकर अपनी साख साबित करनी है। प्रदेश के घोषित टिकटों में से छह पर अमरिंदर की ही चली है। उनके कहने पर ही पार्टी ने प्रदेश में ‘आप’ से गठबंधन की संभावना से इनकार कर दिया। इसलिए कैप्टन पर अपनी पसंद के उम्मीदवारों को जिताने का बड़ा दबाव होगा। 

सर्वे छोड़ समीकरण साधे : पंजाब में कांग्रेस ने गुरदासपुर से सुनील जाखड़, अमृतसर से गुरजीत औजला,जालंधर से चौधरी संतोष सिंह, होशियारपुर से राजकुमार चब्बेवाल, आनंदपुर साहिब से मनीष तिवारी, लुधियाना से रवनीत बिट्टू, फतेहगढ़ साहिब से अमर सिंह, फरीदकोट से मोहम्मद सदीक, संगरुर से केवल ढिल्लो, पटियाला से परणीत कौर, खडूर साहिब से जसबीर डिंपा पर दांव लगाया है। कुछ सीटों पर सर्वे रिपोर्ट का हवाला देकर उम्मीदवारी तय करने की बात हो रही थी। लेकिन अंत में इलाकाई समीकरण और नेताओं का दबाव से चयन हुआ। फिरोजपुर, बठिंडा सीट पर अभी नाम तय होना है। 

सिद्धू को साधना होगा : प्रदेश में कैप्टन से कई मुद्दों पर अलग रुख अपनाने वाले सिद्धू इस समय पार्टी के स्टार प्रचारक हैं। उनकी पत्नी नवजोत कौर सिद्धू चंडीगढ़ से टिकट चाहती थीं। अमृतसर से भी उनकी दावेदारी बताई जा रही थी। लेकिन उनको पार्टी ने टिकट नहीं दिया। कांग्रेस सूत्रों ने कहा अमरिंदर, सिद्धू, प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखड़ को एकजुट होकर प्रचार में जुटने को कहा गया है। टिकट से वंचित रह गए नेताओं को मनाकर प्रचार से जोड़ा जाएगा। 

सिद्धू को कारण बताओ नोटिस जारी  
चुनाव आयोग ने मुस्लिम मतदाताओं से एकजुट होकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को हराने के लिए मतदान करने की अपील करने के कारण कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू को शनिवार को कारण बताओ नोटिस जारी किया। चुनाव आयोग ने कहा कि सिद्धू ने लोकसभा चुनाव के लिए लागू आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया है। कांग्रेस नेता को नोटिस का जवाब देने के लिए 24 घंटे का समय दिया गया है।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lok sabha elections 2019 punjab cm captain amrinder singh mission 13 challenge in upcoming polls