DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:
asianpaints

लोकसभा चुनाव 2019 : डोमराजा व चौकीदार होंगे पीएम मोदी के प्रस्तावक

ls polls 2019  indian prime minister narendra modi during roadshow in varanasi

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को नामांकन दाखिल करेंगे। पार्टी पदाधिकारियों के मुताबिक नामांकन में शामिल प्रस्तावकों में डोमराजा के बेटे और चौकीदार भी हैं। इसके अलावा संघ का पुराना कार्यकर्ता और महिला प्रिंसिपल भी शामिल हैं। पिछले चुनाव के प्रस्तावकों को इस बार मौका नहीं मिल पाया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2014 में जब चुनाव लड़े थे तो  उनके नामांकन में प्रस्तावक बनारस घराने के गायक पंडित छन्नूलाल मिश्र, रिटायर जज गिरिधर मालवीय, गंगा सेवक वीरभद्र निषाद और बुनकर अशोक कुमार बने थे। पार्टी ने इस बार प्रस्तावक की सूची हफ्तेभर पहले मंगायी थी। जिसमें नौ नाम भेजे गये थे। पार्टी ने अपने स्तर पर सभी प्रस्तावकों की जांच करायी। इसके बाद गुरुवार की रात पार्टी के शीर्ष नेताओं ने चार नामों पर मुहर लगायी। हालांकि प्रस्तावकों का नाम सीधे बताने से पार्टी के नेता बचते रहे।

पार्टी के सूत्रों के मुताबिक इस बार के प्रस्तावकों में मणिकर्णिका घाट निवासी डोमराजा के बेटे जगदीश चौधरी, हुकुलगंज के रहने वाले संघ व पार्टी के पुराने कार्यकर्ता सुभाष गुप्ता, निवेदिता बालिका इंटर कॉलेज की प्रधानाचार्य  डॉ. आनंद प्रभा सिंह और एक चौकीदार भी शामिल है। हालांकि पार्टी चौकीदार के नाम का खुलासा नहीं हुआ है।

पुराने प्रस्तावक बोले, पीएम से खूब मिला सम्मान

पिछले चुनाव में प्रस्तावक बने गंगा सेवक वीरभद्र निषाद और बुनकर अशोक कुमार पीएम के आगमन को लेकर काफी उत्साहित थे। दोनों पुराने प्रस्तावकों का कहना था इन पांच सालों में प्रधानमंत्री से काफी सम्मान मिला। यह किसी भी उपहार से कम नहीं है। 

पिछले चुनाव में अशोक व वीरभद्र के साथ ही बनारस घराने के गायक पंडित छन्नूलाल मिश्र व रिटायर जज गिरिधर मालवीय भी थे। पद्मभूषण शास्त्रीय गायक छन्नूलाल मिश्र (83) स्वच्छ भारत मिशन के लिए प्रधानमंत्री की ओर से नियुक्त नवरत्नों में से भी एक रहे हैं। उन्हें 2010 में पद्मभूषण से नवाजा गया था। छन्नूलाल मिश्र वर्तमान में मैहर यात्रा पर हैं। जस्टिस मालवीय इलाहाबाद में निवास करते हैं। वह बीएचयू के चांसलर भी हैं। 

पीएम के प्रस्तावक शिवाला निवासी 86 साल के वीरभद्र निषाद बुधवार की दोपहर परिवार के साथ घर में थे। बेटे वीरेंद्र के बुलाने पर घर से बाहर निकले। बताया कि पिछले आम चुनाव में नरेंद्र मोदी का प्रस्तावक बनकर बड़ी प्रसन्नता हुई थी। पांच साल में जो मान-सम्मान मिला उसे भुला नहीं सकता। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से छह बार मुलाकात हुई है। पहली बार पीएम बनने के बाद नरेद्र मोदी ने दिल्ली बुलाकर स्वागत किया। प्रस्तावक बनने के पीछे सिर्फ बनारस में परिवर्तन और विकास की थी अपेक्षा थी। खुद के लिए कोई चाहत नहीं थी। पिछले पांच वर्षों में कोई सरकारी सुविधा या अन्य कोई व्यवस्था सरकार द्वारा नहीं मिली। 

इसे भी पढ़ें : लोकसभा चुनाव 2019 : आज सुबह पीएम नरेंद्र मोदी ने किया नौका विहार

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lok sabha elections 2019 pm narendra modi nomination today domraja and chowkidar will be his proposers