DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:
asianpaints

जानिए, पीएम मोदी ने शाह के साथ ब्रीफिंग में वापसी को लेकर क्या की भविष्यवाणी

prime minister narendra modi and bjp president amit shah address a press conference at party headqua

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) ने अपने दूसरे कार्यकाल को लेकर शुक्रवार को चुनाव प्रचार को खत्म करने के साथ ही बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में प्रधानमंत्री के तौर पर अपनी वापसी की भविष्यवाणी की।

पांच साल में पहली बार प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पीएम मोदी ने कहा- “कई वर्षों में ऐसा पहली बार है जब एक सरकार जिसके पास बहुमत था, वह फिर से सत्ता में वापसी कर रही है।” उन्होंने आगे कहा- हालांकि, अप्स एंड डाउन हुए लेकिन राष्ट्र हमेशा मेरे साथ खड़ा रहा। इसके साथ ही, पीएम ने ‘लास्ट माइल डिलिवरी’ (आखिर तक पहुंच) पर जोर दिया।

पीएम मोदी ने कहा- “यह भारत में शासन की नई संस्कृति है और वास्तव में यही लोकतंत्र की मजबूती है।” इससे पहले, अमित शाह ने इसे भारत के सबसे मुश्किल चुनावों में से एक करार देते हुए कहा पीएम मोदी की लोकप्रियता इस कैंपेन की सफलता है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने 142 रैलियों को संबोधित किया और चार रोड शो कर डेढ़ करोड़ लोगों के साथ सीधा संपर्क किया।

ये भी पढ़ें: राहुल ने प्रेस ब्रीफिंग में चुनाव आयोग पर साधा निशाना, 10 बातें

अमित शाह ने प्रधानमंत्री की उस बात को दोहराया जिसमें उन्होंने दिन में कहा था कि पार्टी 300 से ज्यादा सीटें हासिल करने जा रही है। उन्होंने कहा- “लोगों ने पीएम मोदी के प्रयोग को स्वीकार किया है। मुझे यह विश्वास है कि इस बाद मोदी सरकार की लिए जनादेश काफी बड़ा होगा।”

अमित शाह ने कहा- बीजेपी अपने दम पर बहुमत पाएगी और एनडीए सरकार बनाएगी... लेकिन अगर कोई अन्य दल जो ज्वाइन करना चाहते हैं (सत्ताधारी गठबंधन), उनका स्वागत है। पीएम मोदी की अचानक अमित शाह के प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूदगी को कांग्रेस के उस हमले का जवाब माना जा रहा है, जिसमें उन्होंने यह कह कर निशाना साधा था कि प्रधानमंत्री ने एक भी संबोधन किया किया।

अमित शाह के प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ही संयोग से प्रेस को संबोधित कर रहे राहुल गांधी ने मीडिया ब्रीफिंग के दौरान पीएम मोदी की मौजूदगी को अप्रत्याशित बताया। साथ ही, पत्रकारों से कहा कि वे प्रधानमंत्री से राफेल डील के बारे में पूछें।

राहुल ने पूछा- “अब मुझे एक सवाल पूछने दीजिए। मिस्टर पीएम, क्यों नहीं आप राफेल में भ्रष्टाचार को लेकर मेरी तरफ से किए गए चैलेंज को स्वीकार करते हैं।” राफेल डील पर एक सवाल किया गया था।

अमित शाह ने इस सवाल को लिया और इस डील में किसी तरह के भ्रष्टाचार के आरोप को खारिज कर दिया। अमित शाह ने कहा- “मुझे इसका जवाब देना है। प्रधानमंत्री को हर चीज का जवाब देने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि इस सवाल का कोई आधार नहीं है।”

ये भी पढ़ें: '5 साल पहले सट्टाबाजों को भारी नुकसान,फिर पूर्ण बहुमत में बनेगी सरकार'

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lok Sabha Elections 2019 PM Modi at rare media briefing with Amit Shah says it will be a first