DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:
asianpaints

लोकसभा चुनाव 2019 : नायडू समेत विपक्षी नेताओं का ईवीएम-वीवीपैट पर फिर हमला

chandrababu naidu

विभिन्न विपक्षी दलों के नेताओं ने मंगलवार को ईलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम)-वीवीपैट पर मंगलवार को एक बार फिर हमला किया और कहा कि इनमें गड़बड़ियों की पूरी संभावना है और इनकी प्रोग्रामिंग कर इनमें गड़बड़ी जा सकती है।

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री और तेदेपा अध्यक्ष एन. चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि दुनिया के 191 देशों में से मात्र 18 देशों ने ईवीएम को अपनाया है, जिनमें से तीन देश 10 सर्वाधिक आबादी वाले देशों में शामिल हैं। 

नायडू ने चिंता जाहिर करते हुए कहा, ईवीएम के साथ छेड़छाड़ की जा सकती है और उनमें गड़बड़ी भी पैदा होती है। इसके अलावा इनकी प्रोग्रामिंग भी की जा सकती है। उन्होंने यह जानने की मांग की कि नए वीवीपैट में वोटर स्लिप मात्र तीन सेकेंड में कैसे दिखाई देता है, जबकि इसे सात सेकेंड में दिखाई देना चाहिए। उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी ईवीएम से छेड़छाड़ कर वोट हासिल कर सकती है।

नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष शरद पवार ने कहा, लोग मौजूदा सरकार को बदलने के मूड में हैं, लेकिन मुख्य चिंता ईवीएम से छेड़छाड़ को लेकर है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार शिंदे ने कहा कि 50 प्रतिशत वीवीपैट स्लिप के सत्यापन की मांग कोई अनुचित मांग नहीं है।
 
आम आदमी पार्टी (आप) के नेता संजय सिंह ने भारत निवार्चन आयोग पर धृतराष्ट्र की तरह आचरण करने का आरोप लगाते हुए कहा कि आप ईवीएम का कोई भी बटन दबाइए, वोट भाजपा को जाता है। राष्ट्रीय विपक्षी दलों के नेताओं ने ऐसे समय में एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया, जब महाराष्ट्र और देश के अन्य हिस्सों में तीसरे चरण का मतदान हो रहा था।

इसे भी पढ़ें : लोकसभा चुनाव 2019 : विदाई से पहले लाल जोड़े में वोट डालने पोलिंग बूथ पहुंचीं दुल्हनें

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lok sabha elections 2019 n chandra babu naidu and other opposition leaders raise question on evm authenticity