lok Sabha elections 2019 more than 16 lakhs voters to decide the fate of South Delhi Constituency - lok Sabha elections 2019: 16 लाख से ज्यादा मतदाता तय करेंगे नई दिल्ली का भाग्य DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

lok Sabha elections 2019: 16 लाख से ज्यादा मतदाता तय करेंगे नई दिल्ली का भाग्य

voting in delhi

लोकसभा चुनाव 2019 के छठे चरण के तहत राजधानी दिल्ली की 7 संसदीय सीटों में से एक नई दिल्ली लोकसभा सीट पर रविवार 12 मई को वोट डाले जाएंगे। नई दिल्ली सीट के अंतर्गत नई दिल्ली, कस्तूरबा नगर, करोलबाग, पटेल नगर, मोती नगर, दिल्ली कैंट, राजिंदर नगर, मालवीय नगर, आरके पुरम, ग्रेटर कैलाश जैसे पॉश इलाके आते है। इस वीवीआईपी सीट पर 16 लाख से ज्यादा मतदाता मताधिकार के माध्यम से अपना सांसद चुनेंगे। लोकसभा चुनाव में यहां से तीनों बड़े दलों के प्रत्याशियों चुनावी अखाड़े में उतरने से मुकाबला त्रिकोणीय हो गया है। 

 

2014 के लोकसभा चुनाव में नई दिल्ली लोकसभा सीट से मौजूदा सांसद और भाजपा प्रत्याशी मीनाक्षी लेखी को 4,53,350 वोट मिले थे। वहीं, उनके प्रतिद्वंद्वी रहे 'आप' के आशीष खेतान 2,90,642 वोट और कांग्रेस नेता अजय माकन को 1,82,893 वोट से संतोष करना पड़ा था।

 

इनके बीच है त्रिकोणीय मुकाबला

मीनाक्षी लेखी : 52 वर्षीय मीनाक्षी लेखी पेशे से वकील है। वर्तमान में नई दिल्ली सीट से सांसद है। पार्टी ने इन्हें लगातार दूसरी बार यहां से उम्मीदवार बनाया है। मीनाक्षी लेखी महिला आरक्षण बिल की ड्राफ्ट समिति में शामिल रही हैं। 

अजय माकन : 55 वर्षीय अजय माकन तीन बार 1993 से 2004 तक विधायक रहे हैं। इसके बाद वह वर्ष 2004 और फिर वर्ष 2009 में लगातार दो बार सांसद चुने गए। मनमोहन सरकार में वह केंद्रीय मंत्री भी रहे। वह पूर्व कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष भी रह चुके हैं। हालांकि, वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में वह हारे गए थे।

बृजेश गोयल : आप प्रत्याशी बृजेश गोयल पेशे से व्यापारी है। ‘आप' के गठन के साथ ही वह पार्टी से जुड़े रहे हैं। यह उनका पहला चुनाव है। वह ‘आप' के व्यापारी प्रकोष्ठ के संयोजक रहे हैं। सीलिंग के दौरान उन्होंने व्यापारियों के बीच काफी काम किया था। उसके चलते ही पार्टी उन्हें टिकट दिया है। 

 

60 हजार से अधिक सुरक्षाकर्मी रहेंगे तैनात

मतदान शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं और पूरे शहर में होम गार्ड तथा अर्धसैनिक बलों समेत 60 हजार से अधिक सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है। मतदान केंद्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए 39,000 पुलिसकर्मी और 13,000 होमगार्ड शामिल होंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lok Sabha elections 2019 more than 16 lakhs voters to decide the fate of South Delhi Constituency