DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आजमगढ़ में मायावती ने अखिलेश के लिए मांगे वोट, भाजपा पर साधा निशाना

बसपा प्रमुख मायावती का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बुधवार को भी जारी रहा। आजमगढ़ में सपा प्रमुख अखिलेश यादव के लिए सभा करने पहुंचीं मायावती ने कहा कि हमारे गठबंधन से भाजपा वाले घबराए हुए हैं। हमारे सामाजिक गठबंधन से बीजेपी का वर्तमान ही नहीं भविष्य भी गड़बड़ हो गया है। इसलिए तरह तरह की साजिश कर रहे हैं। कभी गठबंधन को महामिलावटी बताते हैं तो कभी शराब बताते हैं। और कभी खुद को पिछड़ा बताते हैं। मायावती ने कहा कि नरेंद्र मोदी कागजी पिछड़े हैं। गुजरात में अपनी सरकार के दौरान जुगाड़ करके अपनी अगड़ी जाति को पिछड़ी जाति में शामिल कर लिया है। वे नकली पिछड़े हैं। असली पिछड़े अखिलेश यादव हैं। अखिलेश जन्मजात पिछड़े हैं। 

पूर्वांचल में पहली बार आजमगढ़ में अखिलेश-मायावती के साथ राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष अजीत सिंह ने भी मंच साझा किया। मायावती ने कहा कि बाबा साहेब ने पिछड़ों-दलितों के साथ ही मुसलिम और अल्पसंख्यकों के हितों को ध्यान में रखते हुए संविधान में धर्मनिरपेक्षता को स्थान दिया था। उन्हीं के कदमों पर चलते हुए 2007 में जब दलितों, आदिवासियों और पिछड़ों के साथ सामाजिक भाईचारे के आधार पर अपनी सरकार बनाई तो भाजपा और कांग्रेस दोनों को अच्छा नहीं लगा। इन लोगों ने पिछड़े समाज के अति पिछड़े लोगों बांटना शुरू कर दिया। 

पिछड़ों को बांटने के लिए कई संगठन और पार्टियां बनावा दी। चुनाव के दौरान कुछ पार्टियों को पैसा देकर बैठा देते हैं और कुछ को एक-दो सीट देकर चुनाव लड़ा देते हैं। इन लोगों ने केवल बांटों और राज करो की नीति पर राजनीति की है। इन लोगों ने समाज में ही नहीं अखिलेश के परिवार को भी बांट दिया। ताकि वोटों को काटा और बांटा जा सके। मायावती ने कहा कि यह गठबंधन टूटेगा नहीं। केंद्र से मोदी की सरकार ही नहीं यूपी से योगी की सरकार भी उखाड़ फेकेंगे। 

बीजेपी सरकार केवल पूंजीपतियों की चौकीदारी में लगी है। इनकी सरकार में देश के किसान अपनी समस्याओं को लेकर परेशान हैं। इनके शासन में छोड़े गए आवारा पशुओं ने किसानों को परेशान कर रखा है। छोटे और मध्यम वर्ग के व्यापारी बुरी तरह दुखी हैं। इस सरकार में भ्रष्टाचार भी काफी बढ़ गया है। रक्षा सौदे भी अछूते नहीं रहे हैं। 

महापरिवर्तन लाने वाला है महागठबंधन: अखिलेश

मायावती के बाद सभा को संबोधित करने पहुंचे समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि अभी तक हुए पांचों चरण में गठबंधन बहुत आगे हैं। यह महामिलावटी नहीं महापरिवर्तन लाने वाला गठबंधन है। अभी तक दलितों और पिछड़ों को जो अधिकार नहीं मिले, उस अधिकार को दिलाने वाला गठबंधन है। 

अखिलेश ने कहा कि भाजपा ने जो वादा किया उसके उलटा काम किया। किसानों को मुनाफा देने का वादा किया और खाद की बोरी से पांच किलो की चोरी कर ली। नौजवानों ने सोचा था कि नौकरी मिलेगी लेकिन नोटबंदी और जीएसटी से करोड़ों नौकरियां छीनने का काम किया। चाय वाले अब चौकीदार बन कर आ गए हैं। इनकी चौकी छीननी होगी। अखिलेश ने कहा कि सपा-बसपा ने बहुत काम किया है। जिस तरह से एक्सप्रेस-वे लखनऊ दिल्ली से जुड़ने जा रहा है, उसी तरह गठबंधन भी दिल्ली लखनऊ से जुड़ने जा रहा है। 

जनता के अच्छे दिन नहीं आए : अजीत सिंह

राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष अजीत सिंह ने कहा कि 2014 में वादा किया था कि अच्छे दिन आएंगे, लेकिन जनता के अच्छे दिन नहीं आए। नौजवानों ने नौकरी मांगी तो कहते हैं पकौड़ा बनाओ। किसानों की आय बढ़ने की जगह घट गई। अजीत सिंह ने चौकीदार चोर है का नारा भी लगवाया। कहा कि पिछले पांच साल में भ्रष्टाचार तेजी से बढ़ा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lok Sabha Elections 2019 Modi Paperback Backward Akhilesh is Real and Indigenous Backward: Mayawati