Lok Sabha Elections 2019 know Political History and Statistics of Singhbhum Lok Sabha Seat of Jharkhand - सिंहभूम लोकसभा सीट: BJP के लिए प्रतिष्ठा का सवाल है यह सीट DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिंहभूम लोकसभा सीट: BJP के लिए प्रतिष्ठा का सवाल है यह सीट

bjp

सिंहभूम झारखंड की 14 लोकसभा सीट में एक अहम संसदीय क्षेत्र है। कभी अति नक्सल प्रभावित रहा सारंडा के इस रेड कॉरिडोर वाले क्षेत्र में अब पूरी तरह शांति है। अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित इस लोस सीट पर अभी भाजपा का कब्जा है। यहां से लक्ष्मण गिलुवा सांसद हैं।

1952 में देश में हुए पहले लोकसभा चुनावों में इस सीट का गठन नहीं हुआ था। 1957 में दूसरे लोकसभा निर्वाचन के दौरान यह संसदीय क्षेत्र अस्तित्व में आया। इस क्षेत्र में चाईबासा, चक्रधरपुर, मझगांव, जगन्नाथपुर, मनोहरपुर और सरायकेला विधानसभा क्षेत्रों को समाहित किया गया है। इस सीट से रिकॉर्ड चार बार लगातार जीत दर्ज करने वाले स्वर्गीय बागुन सुंबरुई के नाम पर सबसे पहले एक लाख या इससे अधिक मत हासिल करने का रिकार्ड दर्ज है। बागुन पहली बार 1977 में सिंहभूम सीट से सांसद चुने गए थे। इस चुनाव में उन्होंने 126,288 मत हासिल कर जीत दर्ज की थी। उनसे पहले 1971 में मोरन सिंह पुरती ने 32,935, 1967 में के. बिरुवा ने 31254, 1962 में हरिचरण सोय ने 53269 और 1957 में शंभू चरण ने 72246 मत हासिल कर चुनाव जीता था।

11, 52,632 मतदाताओं वाले सिंहभूम लोकसभा क्षेत्र में 5,83,330 पुरुष मतदाता और 5,69,300 महिला मतदाता हैं। यहां की कुल छह विधानसभा सीटों में से एक जगन्नाथपुर सीट कांग्रेस और बाकी की पांच सरायकेला, मनोहरपुर, चक्रधरपुर, मझगांव और चाईबासा सीटें झामुमो के पास हैं।

2014 लोकसभा चुनाव में सिंहभूम सीट के आंकड़े
वर्तमान सांसद और पार्टी-
लक्ष्मण गिलुवा, भाजपा
जीत का अंतर- 87,524
रनर अप कैंडिडेट- गीता कोड़ा, जय भारत समानता पार्टी
2014 में वोट प्रतिशत- 69.07
2014 में मतदाताओं की संख्या- 11,51,586
महिला मतदाता- 5,68,931
पुरुष मतदाता- 5,82,655

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lok Sabha Elections 2019 know Political History and Statistics of Singhbhum Lok Sabha Seat of Jharkhand