DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:
asianpaints

लोकसभा चुनाव 2019: जानिए, ओडिशा की केन्द्रपाड़ा लोकसभा सीट के बारे में

kendrapara lok sabha constituency  file pic

ओडिशा का केन्द्रपाड़ा को एक पौराणिक नगरी के तौर पर माना जाता है। इसमें बारे में ऐसी मान्यता है कि भगवन कृष्ण के बड़े भाई बलराम ने यहीं केंद्रसुर का वध कर यहीं उसकी उसकी पुत्री से विवाह किया फिर यहीं बस गए थे। 1998 से इस सीट पर बीजू जनता दल का वर्चस्व रहा है। 

2019 लोकसभा चुनाव में बीजेपी इस बार केन्द्रपाड़ा से बिजयंत पांडा, बीजेपी ने अनुभव मोहंती और कांग्रेस ने धरणीधर नायक को उतारा है। केन्द्रपाड़ी की राजनीति पर गौर करें तो पिछले साल उठापटक तब देखने को मिला जब बीजद की स्थापना के साथ ही पार्टी से जुड़े रहे सांसद विजयंत जे पांडा ने पार्टी छोड़ दी। इससे पहले बीजद ने पार्टी विरोधी गतिविधियों के लिए उन्हें बीजद से निलंबित कर दिया था।

अमेरिका में पढ़े, विजयंत पांडा को केंद्रपाड़ा की जनता ने बेहद पसंद किया। 2014 में इन्हें बम्पर 6 लाख 01 हजार 574 वोट मिले। कांग्रेस के धरणीधर नायक को यहां पर 3 लाख 92 हजार 466 वोट मिले। इस तरह से विजयंत पांडा 2 लाख 09 हजार 108 वोट से चुनाव जीते। तीसरे स्थान पर रहे बीजेपी के विष्णु प्रसाद दास। उन्हें 1 लाख 18 हजार 707 वोट मिले।

केंद्रपाड़ा में विधानसभा की 7 सीटें हैं। ये सीटें हैं सलीपुर, महंगा, पटकुरा, केंद्रपाड़ा, औल, राजनगर और महाकलपद। 2014 के विधानसभा चुनाव में सलीपुर, औल और राजनगर में कांग्रेस ने जीत हासिल की थी, बाकी 4 सीट पर बीजू जनता दल ने जीत हासिल की थी।


केन्द्रपाड़ा की वर्तमान राजनीतिक स्थिति-

वर्तमान सांसद और पार्टी- विजयंत जे पांडा, बीजेडी

जीत का अंतर- 2 लाख 09 हजार 108

रनर अप कैंडिडेट- धरणीधर नायक, कांग्रेस

2014 में वोट प्रतिशत- 73.36

2014 में मतदाताओं की संख्या- 15 लाख 55 हजार 444 वोटर

महिला मतदाता- 7 लाख 26 हजार 953

पुरुष मतदाता – 8 लाख 28 हजार 491

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lok Sabha Elections 2019 Know About Odisha Kendrapara Lok Sabha seat