Lok Sabha Elections 2019 in Sharad Pawar PM list Mayawati Mamata and Chandrababu Naidu but missing Rahul Gandhi - लोकसभा चुनाव 2019: शरद पवार की पीएम लिस्ट में ममता, मायावती और नायडू लेकिन राहुल गांधी गायब DA Image
22 नवंबर, 2019|7:51|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लोकसभा चुनाव 2019: शरद पवार की पीएम लिस्ट में ममता, मायावती और नायडू लेकिन राहुल गांधी गायब

andhra pradesh chief minister n  chandrababu naidu is among the leaders that ncp chief sharad pawar

महाराष्ट्र (Maharashtra) में अंतिम चरण के मतदान से एक दिन पहले रविवार को कांग्रेस और उसके सहयोगी दल राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) में मतभेद उभरकर सामने आ गया। एक तरफ जहां एनसीपी चीफ (NCP Chief) शरद पवार (Sharad Pawar) ने प्रशासनिक अनुभवों का हवाला देते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती और आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू को प्रधानमंत्री पद के लिए ‘बेहतर विकल्प’ बताया। तो वहीं, कांग्रेस ने जोर देते हुए कहा कि वे पर्याप्त आंकड़े हासिल करेंगे और उनकी तरफ से प्रधानमंत्री राहुल गांधी होंगे।

पवार लगातार इस बात पर जोर देते रहे हैं कि बीजेपी की अगुवाई वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) शायद सत्ता में वापस न आए, उन्होंने शनिवार को एक टेलीविजन चैनल से बात करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी पीएम बनने से पहले मुख्यमंत्री थे।

पवार ने कहा कि राज्य के मुख्यमंत्री के नाते जब प्रधानमंत्री पद की बात आएगी तो उनका यह अनुभव उनके पक्ष में होगा। पवार ने यह भी कहा कि राहुल गांधी पहले ही यह साफ कर चुके हैं कि वह प्रधानमंत्री पद की दौड़ में नहीं हैं।

ये भी पढ़ें: 2014 में MP, राजस्थान की 54 सीटों में से 52 पर जीती थी भाजपा

पवार का यह बयान कांग्रेस को अच्छा नहीं लगा। कांग्रेस प्रवक्ता और महासचिव सचिन सावंत ने कहा- “यह साफ नहीं है कि किस परिप्रेक्ष्य में उन्होंने ऐसा कहा है। लेकिन, ऐसा उनकी व्यक्तिगत राय हो सकती है। हम लोकसभा चुनाव में बहुमत को लेकर पूरी तरह से आश्वस्त हैं और हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष इस पद (पीएम) के लिए हमारा पसंद हैं।”

कांग्रेस के एक धड़े के मुताबिक, पीएम पद को लेकर शरद पवार राहुल गांधी के नाम पर शायद ही उनका समर्थन करें, ठीक वैसा ही जैसे उन्होंने सोनिया गांधी के नाम का विरोध किया था, जब सोनिया गांधी राजनीति में आईं थीं।

एक अन्य कांग्रेस नेता ने बताया- “राहुल गांधी ने कभी ये बात नहीं कही कि वह इस दौड़ में हैं लेकिन पवार उन्हें आसानी से नहीं स्वीकार करेंगे। 2014 से पहले तक वे यह खुलेआम अपना राय में कहते रहे कि राहुल उस पद के लिए मैच्योर नहीं थे। जिस तरह से वह छोटी पार्टियों के महागठबंधन को लेकर सक्रिय थे, उसे अनदेखा नहीं किया जा सकता है।”

ये भी पढ़ें: लोकसभा का चौथा चरण क्यों BJP के लिए है कठिन चुनौती, जानिए 10 बातें

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lok Sabha Elections 2019 in Sharad Pawar PM list Mayawati Mamata and Chandrababu Naidu but missing Rahul Gandhi