Lok Sabha Elections 2019 EVM laden carrier commute reached the Strong Room after 24 hours of polling in Chandauli - लोकसभा चुनाव 2019: चंदौली में मतदान के 24 घंटे बाद स्ट्रांग रूम पर पहुंचा ईवीएम लदा मालवाहक, हंगामा DA Image
15 दिसंबर, 2019|12:10|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लोकसभा चुनाव 2019: चंदौली में मतदान के 24 घंटे बाद स्ट्रांग रूम पर पहुंचा ईवीएम लदा मालवाहक, हंगामा

चंदौली में सोमवार की शाम स्ट्रांग रूम पर ईवीएम लदे मालवाहक के पहुंचने पर हंगामा खड़ा हो गया। सपा विधायक के नेतृत्व में विपक्षी नेताओं ने मालवाहक को वहीं रोक लिया और चालक को बंधक बनाते हुए भाजपा पर ईवीएम बदलने का आरोप लगाया। मौके पर पहुंचे जिला निर्वाचन अधिकारी ने लोगों को समझाने की कोशिश की। शाम करीब साढ़े पांच बजे शुरू हुआ हंगामा चार घंटे बाद सभी ईवीएम वहां से दोबारा मालवाहक पर लाद कर कलक्ट्रेट भेजने पर शांत हुआ।

चंदौली में नवीन कृषि मंडी पर ईवीएम का स्ट्रांग रूम बनाया गया है। रविवार को वोटिंग के बाद यहीं पर सभी ईवीएम रखी गई थी।ईवीएम की निगरानी के लिए मंडी परिसर में स्ट्रांग रूम से कुछ दूरी पर गठबंधन और कांग्रेस के नेताओं ने कार्यकर्ताओं को भी बैठाया है। सोमवार की शाम करीब पांच बजे यहां एक मालवाहक से कुछ ईवीएम लायी गई। इसे देखते ही कार्यकर्ताओं ने हंगामा खड़ा कर दिया। कुछ देर में ही सकलडीहा के सपा विधायक प्रभुनारायण के साथ बसपा और कांग्रेस के कई नेता भी पहुंच गए। विधायक ने आरोप लगाया कि भाजपा के इशारे पर ईवीएम बदली जा रही है। 

हंगामा की खबर लगते ही जिला निर्वाचन अधिकारी नवनीत सिंह चहल समेत कई अधिकारी मौके पर पहुंचे और नेताओं को समझाने की कोशिश की। जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि मतदान के लिए सकलडीहा तहसील पर 35 अतिरिक्त ईवीएम रखी गई थी। रविवार को उसे यहां नहीं लाया जा सका था। इसलिए सोमवार को वहां से लाकर यहां रखा जा रहा था।

प्रशासन का आश्वासन
हंगामा कर रहे गठबंधन और कांग्रेस के नेताओं को जिला निर्वाचन अधिकारी ने आश्वासन दिया कि इन ईवीएम को मतगणना वाले दिन नहीं निकाला जाएगा। जिस कमरे में ईवीएम रखी जा रही है उसे सभी के सामने सील करने की बात कही।

विपक्ष की मांग
प्रशासन के आश्वासन को विपक्ष के नेता मानने को तैयार नहीं हुए। उन्होंने मांग की कि अगर यह अतिरिक्त ईवीएम हैं तो इन्हें कहीं और रखा जाए। इसकी वीडियो रिकार्डिंग भी कराई जाए। हंगामा बढ़ता देख प्रशासन को झुकना पड़ा और ईवीएम वहां से हटाने पर तैयार हो गया। सभी 35 ईवीएम मालवाहक में भरकर कलक्ट्रेट भेजकर हंगामे को शांत किया गया।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष हैं चंदौली से प्रत्याशी
चन्दौली संसदीय सीट वाराणसी से सटी हुई है। यहां पांच विधानसभा क्षेत्र हैं। इनमें दो विधानसभा शिवपुर और अजगरा वाराणसी जिले में ही स्थित हैं। चंदौली के तीन विधानसभा क्षेत्रों और राबर्ट्सगंज के चकिया विधानसभा क्षेत्र की ईवीएम को नवीन कृषि मंडी परिसर में रखा गया है।
 
नोट देकर अंगुली पर स्याही की घटना हुई
चंदौली में ही शनिवार की रात दलित ग्रामीणों को नोट देकर अंगुली पर स्याही लगाने की घटना भी हुई थी। आधी रात तक इसे लेकर गठबंधन के नेताओं ने हंगामा किया था। किसी तरह पुलिस और प्रशासन ने उन्हें समझाकर शांत कराया था। अगले दिन नोट बांटने वालों की गिरफ्तारी भी हुई थी। 
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lok Sabha Elections 2019 EVM laden carrier commute reached the Strong Room after 24 hours of polling in Chandauli