DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:
asianpaints

लोकसभा चुनाव 2019 : बसपा का पश्चिमी यूपी के बाद अब पूर्वांचल पर फोकस

 बसपा सुप्रीमो मायावती पश्चिमी यूपी के बाद जल्द ही पूर्वांचल पर फोकस करने वाली हैं। वह प्रमुख रूप से वाराणसी, गोरखपुर, जौनपुर, इलाहाबाद में सभाएं कर सकती हैं। उनका कार्यक्रम जल्द जारी होने वाला है। इसमें अखिलेश के साथ संयुक्त रैलियां भी होंगी।

सपा-बसपा गठबंधन पूर्वांचल की 21 सीटों पर जोर अजमाइश कर रहा है। आजमगढ़ से सपा मुखिया अखिलेश यादव खुद चुनाव लड़ रहे हैं। जौनपुर की मछलीशहर सीट से मायावती के करीबी माने जाने वाले टी राम चुनाव लड़ रहे हैं। पश्चिमी यूपी के बाद गठबंधन का पूरा ध्यान पूर्वांचल की खासकर उन सीटों पर है जहां यादव, दलित और मुस्लिम मतदाताओं की संख्या अधिक है। मायावती का मानना है कि जातिगत समीकरण के आधार वाली सीटों पर अगर ध्यान ठीक से दे दिया गया तो जीत गठबंधन के पक्ष में होगा।

मायावती इसके आधार पर अखिलेश के साथ साझा रैलियों का कार्यक्रम बना रही हैं। पूर्वांचल से दोनों नेताओं की मांग भी अधिक आ रही है। बसपा की तरफ से कोआर्डिनेटरों को निर्देश भेज दिया गया है कि रैली के लिए स्थान तय करते हुए जिला प्रशासन से अनुमति मांगने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाए। जैसे-जैसे अनुमति मिलती जाएगी कार्यक्रम तय होते जाएंगे। पूर्वांचल का जातीय समीकरण गठबंधन के पक्ष में मानकर दम दिखाने की तैयारी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lok Sabha Elections 2019: BSP focuses on Purvanchal now after Western UP