DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:
asianpaints

लोकसभा चुनाव 2019: भाजपा से तीन बार सांसद रहे आनंदरत्न मौर्य कांग्रेस में शामिल

चुनाव से ठीक पहले कुछ नेता पाला बदल कर कांग्रेस पार्टी में शमिल हो गए। कांग्रेस के चुनाव कार्यालय में गुरुवार को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर ने इन नेताओं को पार्टी की सदस्यता ग्रहण कराई। इनमें बसपा नेता और पूर्व मंत्री वीरेंद्र सिंह, भाजपा के टिकट पर चंदौली से तीन बार सांसद रहे आनंदरत्न मौर्य और पूर्व एमएलसी राजदेव सिंह शामिल हैं। वीरेंद्र सिंह ने इसे अपनी घर वापसी बताई। आनंद रत्न मौर्य ने कहा कि देश सेवा करने का अवसर अब कांग्रेस में ही है। राजदेव सिंह ने कहा, 28 साल बीएसपी में रहने के बाद महसूस हुआ कि कांग्रेस ही देश का विकास कर सकती है। 

वहीं, राज बब्बर ने दावा किया है कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को अप्रत्याशित बढ़त हासिल होगी। पूरे देश से इसके संकेत मिलने शुरू हो गए हैं। 23 मई की शाम तक सत्ता बदल जाएगी। राज बब्बर गुरुवार को खजुरी स्थित कांग्रेस के चुनाव कार्यालय में पत्रकारों से बात कर रहे थे। उन्होंने कहा कि काशी में प्रियंका गांधी के रोड शो में उमड़ी भीड़ ने भी कांग्रेस की बढ़त का संकेत दे दिया है। 

पश्चिम बंगाल में चुनावी हिंसा के बाबत उन्होंने कहा कि इसे सुनियोजित ढंग से फैलाया गया है। ‘भाटा-भाटी’ सेना का जिक्र करते हुए उन्होंने आरोप लगाया कि इसमें बाहरी लोग शामिल हैं, जिनका उद्देश्य हिंसा फैलाकर चुनावी लाभ उठाना है। उनका कहना था कि पश्चिम बंगाल का कोई निवासी ईश्वरचंद विद्यासागर की मूर्ति नहीं तोड़ सकता। यह अपमानजनक कार्य किसी बाहरी का हो सकता है। चुनाव बाद के समीकरणों पर पूछे गए सवालों पर उनका कहना था कि सब कुछ 23 मई तक समाप्त हो जाएगा। सच्चर कमेटी की रिपोर्ट को लागू करने के सवाल पर  उनका कहना था कि मौजूदा सरकार ने इस कमेटी को लेकर कोई काम नहीं किया। 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lok Sabha Elections 2019 Anandharatna Maurya who was MP three times included in Congress