DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:
asianpaints

Lok sabha election Result 2019- गोपालगंज: तीन स्तरीय सुरक्षा के बीच आज होगी मतगणना

लोकसभा चुनाव की मतगणना को लेकर सभी प्रशासनिक तैयारी पूरी कर ली गई है। थावे स्थित डायट के बिल्डिंग में बनाए गए स्ट्रांग रूम व मतगणना केन्द्र पर गुरुवार की सुबह आठ बजे से मतगणना शुरू होगी। इसके लिए चाक-चौबंद सुरक्षा व्यवस्था की गई है। केन्द्र के अंदर व बाहर थ्री लेयर सुरक्षा घेरे के बीच मतगणना कराने की तैयारी की गई है। इसके लिए अर्द्धसैनिक बल के जवानों की तैनाती की गई है।  मतगणना के दौरान स्ट्रांग रूम खोलने से लेकर ईवीएम के सील तोड़ने व मतों की गिनती की वीडियो रिकार्डिंग होगी। मतगणना के दौरान वहां जाने वाली सभी सड़कें सील रहेंगी। 

सुरक्षा को लेकर कुल सात ड्राप गेट बनाए गए हैं। इन गेटों पर छानबीन के बाद ही अनुमति प्राप्त लोगों को अंदर प्रवेश करने दिया जाएगा। मतगणना केन्द्र के चारो ओर बैरकेडिंग की गई है। सौ मीटर के दायरे में वाहनों का प्रवेश वर्जित रहेगा। वाहनों की पार्किंग के लिए आस-पास में चार स्पॉट बनाए गए हैं। मतगणना केन्द्र पर मीडिया सेंटर,पेयजल,इंटरनेट व टीवी की व्यवस्था  भी रहेगी। 

वीडियोग्राफर करेंगे रिकार्डिंग
मतगणना के लिए कर्मियों की इंट्री से लेकर काउंटिंग खत्म होने तक की हर गतिविधि की वीडियो रिकार्डिंग के लिए कुल 44 वीडियोग्राफरों की तैनाती की गई है। ये सभी अलग-अलग जगहों पर तैनात रहेंगे। 

छह बजे सुबह होगी इंट्री
मतगणना के लिए कुल 336 कर्मियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। इसमें 84 माइको आर्ब्जवर, 91 सुपरवाइजर,91 सहायक शामिल हैं। कर्मियों की इंट्री सुबह छह बजे से होगी। अलग-अलग विधान सभा क्षेत्र के लिए इंट्री गेट बनाए गए हैं। एक नंबर मेन गेट से भोरे व हथुआ, दो नंबर से कुचायकोट व गोपालगंज सदर व तीन नंबर से बरौली व बैकुंठपुर के कांउटिंग एजेंट,कर्मी,अधिकारी व मीडिया कर्मी का प्रवेश होगा। बता दें कि मतगणना का लेकर सभी तैयारी पूरी कर ली गई है। 

गोपालगंज  संसदीय क्षेत्र  कभी कांग्रेस का गढ़ हुआ करता था। 1957 में पार्टी के डॉ. सैयद महमूद यहां से सांसद चुने गए थे। उन्होंने प्रजा सोशलिस्ट पार्टी के सिया बिहारी शरण को पराजित किया था। 1962 से 1977 तक कांग्रेस के द्वारिका नाथ तिवारी ने इस सीट का प्रतिनिधित्व किया। 1980 में नगीना राय कांग्रेस के ही टिकट पर इस लोस क्षेत्र से चुने गए। लेकिन कांग्रेस के गढ़ होने के मिथक को 1984 में निर्दलीय काली प्रसाद पांडेय ने नगीना राय को हरा कर तोड़ा। इस चुनाव में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या से उपजी सहानुभूति लहर भी कांग्रेस की डूबती नैया को नहीं बचा सकी। 1980 के  लोस चुनाव के बाद हुए चुनावों में यहां के मतदाताओं ने हर बार नए चेहरे को संसद में भेजा है, लेकिन किसी को लगातार दो बार चुनाव जीतने का मौका नहीं दिया। सारण,मुजफ्फरपुर,चंपारण व यूपी की सीमा से सटे इस इलाके में बेशक विकास के काम तो हुए हैं, लेकिन अब भी ग्रामीण सड़कें बदहाल व आवागमन के लायक नहीं है।   

1980 के बाद नहीं जीती कांग्रेस 
1991 में कांग्रेस के उम्मीदवार काली पांडेय को पटकनी देकर जनता दल के अब्दुल गफूर सांसद बने थे। 1996 में लालू लहर में लालबाबू यादव ने काली पांडेय को हराया। 1998 में एसपी उम्मीदवार अब्दुल गफूर ने राजद के लाल बाबू यादव को पराजित किया।1999 में राजद के रघुनाथ झा ने काली पांडेय को शिकस्त दी थी। 2004 में राजद उम्मीदवार व राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के साले अनिरुद्ध यादव ने जदयू के प्रभुदयाल सिंह को पराजित किया। 2009 में जदयू के पूर्णमासी राम ने राजद के अनिल को हरा कर इस सीट पर कब्जा जमाया था। 

जातियां अहम फैक्टर
गोपालगंज सुरक्षित संसदीय क्षेत्र में यादव,मुस्लिम,ब्राह्मण,वैश्य,कुर्मी,भूमिहार,कुशवाहा और महादलितों की आबादी है। हर वर्ष इन जातियों की गोलबंदी भी चुनावी जीत-हार में अहम फैक्टर बनती रही है। इसके अलावा अब तक हुए चुनावों में कभी भी स्थानीय मुद्दे हावी नहीं हुए। राजनीतिक पंडितों के अनुसार कभी मंडल-कमंडल व बोफोर्स घोटाले जैसे मुद्दों पर मतदाताओं का ध्रवीकरण होता रहा है। सामाजिक समीकरण की भी यहां से संसद का रास्ता तय करने वाले उम्मीदवारों के लिए वैसाखी साबित होता रहा है। 

वर्तमान सांसद : जनक राम
मोदी लहर में अपने प्रतिद्वंद्वी को बड़े अंतर से हराया

2014 के चुनाव में मोदी लहर के कारण एक बड़े अंतर से अपने प्रतिद्वंद्वी को पराजित कर सांसद जनक राम लोस में पहुंचने में कामयाब रहे थे। जनक राम को 478773 मत मिले थे, जबकि   उनके प्रतिद्वंद्वी डॉ. ज्योति को 191837 मतों से संतोष  करना पड़ा था। गोपालगंज के थावे प्रखंड के इंद्रवा ऐबादुल्लाह के रहने वाले सांसद जनक राम को भाजपा ने इस बार    चुनावी मैदान में नहीं उतारा है।

कौन जीते कौन हारे 
2014 

जीते : जनक राम,भाजपा,    478773
हारे: डॉ. ज्योति भारती,कांग्रेस,    191837 

2009
जीते : पूर्णमासी राम,जदयू ,    200024
हारे: अनिल कुमार, राजद,    157552

2004 
जीते: अनिरुद्ध प्र. यादव,राजद,    336016
हारे: प्रभुदयाल सिंह, जदयू,    143057

1999
जीते : रघुनाथ झा,जदयू ,    365107
हारे: काली प्रसाद पांडेय,राजद,    328983

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lok sabha election Result 2019 Live update Live Coverage Gopalganj loksabha seat result