DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:
asianpaints

Lok Sabha Election 2019 Results: अधिकतम 26 राउंड की मतगणना में होगा मुंगेर के सांसद का फैसला

poll counting start at munger

Lok Sabha Election 2019 Results : देश के सबसे बड़े सियासी दंगल  लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजे आज सबके सामने आ जाएंगे। 11 अप्रैल से लेकर 19 मई तक सात चरणों में लोकसभा चुनाव के वोटों की गिनती शुरू हो चुकी है। हॉट सीट पर सभी की निगाहें जुट गई है।  

आज मतगणना को लेकर लखीसराय, बाढ़, मोकामा, सूर्यगढ़ा, मुंगेर और जमालपुर विधानसभाओं के लिए अलग-अलग मतगणना केन्द्र बनाये गये हैं। मतगणना केन्द्र पर 14 टेबुल लगाए गए हैं। प्रत्येक टेबुल पर एक पर्यवेक्षक, एक माइक्रो ऑब्जर्वर और एक मतदान कर्मी को नियुक्त किया गया है। पोस्टल बैलट की गिनती के लिए अलग से मतगणना कक्ष बनाया गया है। इसमें तीन सहायक निर्वाची पदाधिकारियों को नियुक्त किया गया है। 

सुरक्षा में तैनात रहेगें 1500 पुलिसकर्मी
मतगणना केंद्र की सुरक्षा व्यवस्था को तीन लेयर में बांटा गया है। इसके लिए 1500 पुलिसकर्मी तैनात किया गया हैं। मतगणना केंद्र प्रथम और द्वितीय चरण के सुरक्षा में जिला पुलिस के जवानों को लगाया गया है। जबकि मतगणना हॉल के समीप सुरक्षा के लिए सीआईएसफ के जवान को तैनात किया गया है। इसके साथ ही सुरक्षा के दृष्टिकोण से अंबेचौक से पांच नंबर गुमटी तक सीसीटीवी का भी व्यापक इंतजाम किया गया है।

86 जगहों पर नियुक्त किए गए हैं पुलिस पदाधिकारी व दंडाधिकारी
मुंगेर लोकसभा की मतगणना को शांति पूर्ण और निष्पक्ष संपन्न कराने के लिए मुंगेर लोकसभा के निर्वाची पदाधिकारी सह डीएम राजेश मीणा दृढ़ संकल्पित हैं। इसी कारण मतगणना के दौरान मतगणना केंद्र और मुंगेर व जमालपुर शहर के विभिन्न जगहों पर 86 दंडाधिकारी व पुलिस पदाधिकारी के साथ पुलिस बलों को प्रतिनियुक्त किया गया है। मतगणना केंद्र के अंदर एवं बाहर के 42 जगहों पर दंडाधिकारी व पुलिस पदाधिकारी के साथ पुलिस बल को प्रतिनियुक्त किया गया है। तो वहीं जमालपुर और मुंगेर शहर के 39 चौक-चौराहों एवं अन्य जगहों पर दंडाधिकारी व पुलिस पदाधिकारी के साथ पुलिस बल को प्रतिनियुक्त किया गया है। इसके अलावा शहर के विभिन्न थाना क्षेत्र में गश्ती करने के लिए पांच अलग-अलग टुकड़ियों में पुलिस पदाधिकारी के साथ पुलिसकर्मियों को प्रतिनियुक्त किया गया है। जो मतगणना के दौरान अपने चिन्हित क्षेत्रों में लगातार भ्रमण करते रहेंगे।

डीएम ने कहा कि आमतौर पर देखा जाता है कि, मतगणना के रुझान परिणाम की घोषणा के बाद दलिय  या समूह विशेष के लोगों में अत्यधिक छोभ अथवा हर्ष की स्थिति उत्पन्न होने के कारण विधि व्यवस्था की संभावना बनी रहती है। इसी कारण जिले के सभी बीडीओ, सीओ और थानाध्यक्ष को अपने-अपने क्षेत्रों में मतगणना दिन सुबह 05 बजे से मतगणना समाप्ति के बाद स्थिति सामान्य होने तक भरमनशील रहकर स्थिति को सतर्कता पूर्ण निगरानी रखते हुए विधि व्यवस्था संधारण करने के निर्देश दिए गए हैं।

लोकसभा में अधिकतम 26 राउंड तक होगी मतगणना
मुंगेर लोकसभा में सबसे अधिक 26 राउंड की मतगणना लखीसराय में और सबसे कम 20 राउंड की मतगणना मोकामा विधानसभा में की जाएगी। ईवीएम के कंट्रोल यूनिट से मतगणना के बाद लॉटरी सिस्टम से प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के 05 मतदान केंद्रों के वीवीपैट की पर्ची का मिलान किया जाएगा। मतगणना के दिन मतगणना केंद्र के बाहर मतगणना कर्मियों का रेंडमाइजेशन किया जाएगा। भारत निर्वाचन आयोग की न्यू सुविधा पोर्टल और बिहार निर्वाचन आयोग की ई-काउंटिंग पोर्टल से लोगों को चक्रवार मतगणना की जानकारी मिलेगी। जिले में धारा 144 लागू होने के कारण प्रत्याशी विजय जुलूस नहीं निकालेंगे। मतगणना केंद्र के अंदर मोबाइल ले जाने की अनुमति नहीं होगी।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lok Sabha Election 2019 Results: decision of Munger MP will be maximum 26 round of vote counting