DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:
asianpaints

लोकसभा चुनाव 2019: नक्सल प्रभावित और नदी क्षेत्र में हेलिकॉप्टर से होगी निगरानी

security personal at bhagalpur

दूसरे चरण के लिए 18 अप्रैल को होने वाले मतदान के दिन सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था की गयी है। नक्सल प्रभावित इलाके या दियारा क्षेत्र में जरूरत के अनुसार हेलिकॉप्टर से निगरानी की जाएगी। स्वच्छ और शांतिपूर्ण मतदान सम्पन्न कराने के लिए जिले में 24 कंपनी अर्द्धसैनिक बल और 18 कंपनी बीएमपी की पहुंच चुकी है।
 
जिले के 1340 बूथ संवेदनशील (क्रिटिकल) बूथ घोषित 
डीएम प्रणव कुमार ने पत्रकारों को बताया कि बुधवार को एक हेलिकॉप्टर भागलपुर पहुंच जाएगा। जरूरत के अनुसार भागलपुर और बांका के नक्सल प्रभावित और दियारा इलाके के बूथों की निगरानी की जाएगी। मेडिकल सेवा की जरूरत पड़ने पर भी हेलिकॉप्टर का उपयोग किया जाएगा। डीएम ने बताया कि जिले के 1340 बूथों को संवेदनशील (क्रिटिकल) बूथ घोषित किया गया है। भागलपुर पुलिस जिला के 661 और नवगछिया के 147 भवनों में बूथ बनाए गए हैं। संवेदनशील बूथों पर अर्द्धसैनिक बल और बीएमपी के जवानों की तैनाती की जाएगी। जिन बूथों पर बीएमपी या अर्द्धसैनिक बलों की तैनाती नहीं होगी, वहां माइक्रो प्रेक्षक या लाइव वेबकास्टिंग की व्यवस्था होगी। हर बूथ पर मतदाताओं की कतार लगाने के लिए एक होमगार्ड की तैनाती की गयी है। दूसरे जिलों से 3262 पुलिसकर्मी पहुंच चुके हैं।

बोट से भी बदमाशों पर नजर रखी जायेगी
डीएम ने बताया कि गंगा और कोसी नदी में बोट से भी बदमाशों पर नजर रखी जायेगी। चार बोट भागलपुर जिला पुलिस और चार नवगछिया को दिया गया है। नदी में नियमित गश्ती करने का निर्देश दिया गया है। मतदाताओं को प्रभावित करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए 77 स्थानों पर चेकिंग पोस्ट बनाए गए हैं। सेक्टर मजिस्ट्रेट को 24 घंटे ऐसे लोगों पर निगरानी करने को कहा गया है। जिले को 22 सुपर जोन में बांटा गया है। 16248 लोगों के विरुद्ध 107 के तहत नोटिस भेजा गया है। 7454 लोगों ने बांड भरा। 203 में से 187 बदमाशों के विरुद्ध सीसीए लगाया गया।

बूथों को चिह्नित कर अर्द्धसैनिक बल और बीएमपी की तैनाती 
एसएसपी आशीष भारती ने कहा कि दबंग और मतदाताओं को प्रभावित करने वालों पर विशेष नजर रखी जा रही है। सभी विधानसभा क्षेत्र में सुरक्षा व्यवस्था की निगरानी के लिए डीएसपी की तैनाती की गयी है। एसटीएफ बल को दियारा और नक्सल प्रभावित क्षेत्र में लगाया गया है। नवगछिया एसपी निधि रानी ने बताया कि एक बोट से कोसी और तीन से गंगा नदी में निगरानी की जाएगी। क्रिटिकल बूथों को चिह्नित कर अर्द्धसैनिक बल और बीएमपी की तैनाती की गयी है। तीन बाइक टीम बनाई गई है। एक टीम में 10 जवानों को रखा गया है। 14 जगहों पर चेकिंग प्वाइंट बना है। इस मौके पर डीडीसी सुनील कुमार व उप निर्वाचन पदाधिकारी श्वेता कुमारी आदि उपस्थित थीं। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lok Sabha election 2019: monitored in Naxal affected and river area to be helicopter