DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:
asianpaints

भागलपुर लोकसभा सीट: आज घर से निकलें और ऐसा प्रत्याशी चुनें जो बदल दे यहां की तकदीर

voting at bhagalpur

मैं भगदतपुरम (पुराणों में भागलपुर का पुराना नाम) हूं, जिसे भाग्यशाली शहर कहा जाता है। भाग्यशाली इसलिए कि हम विशिष्टता के लिए जाने जाते हैं। गुरुवार को जब सूर्य की पहली किरण इस धरती पर पड़ेगी तो सौभाग्य की बारिश होगी। सौभाग्य तब मिलेगा जब आप अपने घरों से बाहर निकलेंगे।

अच्छी सरकार बनाने के लिए सोच समझकर निजी लाभ-हानि देखे बिना एक सुंदर भागलपुर और देश के लिए वोट करेंगे। किसी के बहकावे में नहीं आएंगे। हमारा हर एक वोट न सिर्फ हमारे भविष्य को बेहतर करेगा बल्कि नयी पीढ़ी को भी मजबूती देगा।

हम विवेकशील हैं, हमारे शैक्षणिक इतिहास की गाथा विक्रमशिला बयां कर रहा है, जो प्राचीन काल के तीन प्रमुख विश्वविद्यालयों में से एक रहा है। महाभारत काल में कर्ण की राजधानी रहा हूं। तिलकामांझी सा शौर्य और चंपापुरी का गौरव के साथ हम पले-बढ़े हैं। गंगा की धारा को यहां पर रोककर मोड़ने वाले हम जाहन्वी हैं।

देश और इतिहास में जब मौका मिला हम खड़े हुए हैं। गुरुवार को भी खड़े होंगे। आंधी-तूफान हो या धूप की तपन हमें रोक नहीं पाएगी, क्योंकि हम अजगैवीधाम के वासी हैं। हर हाल में घर से निकलकर वोट करेंगे। हम बूथ पर खड़े रहेंगे, ताकि हमें देखकर दूसरे भी मतदान के प्रति जागरूक हों। हम खड़े रहेंगे, क्योंकि हमें अपनी अस्मिता को बचाना है। अपने गौरव को बढ़ाना है। युवाओं को शिक्षा, रोजगार, महिलाओं की सुरक्षा और देश के विकास की हमे फिक्र है। 

मतदान काम नहीं बल्कि हमारी जिम्मेदारी है: प्रसिद्ध गांधीवादी विचारक और पूर्व सांसद डॉ. रामजी सिंह ने युवाओं से अपील की कि लोकतंत्र के लिए वे अपने घरों से बाहर निकलकर मतदान का प्रयोग करें, ताकि लोकतंत्र को बचाया जा सके। लेखिका डॉ. सुजाता चौधरी ने कहा कि वोट नहीं डालना लोकतंत्र की हार है। लोकतंत्र तभी टिकेगा जब हम मतदान करेंगे। उन्होंने कहा कि मतदान काम नहीं बल्कि हमारी जिम्मेदारी है। जिसे पूरी जवाबदेही से निभाना है। 
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bhagalpur lok sabha seat: please must do voting for bhagalpur