parliament live updates DA Image
13 दिसंबर, 2019|1:33|IST

अगली स्टोरी

पॉल्यूशन पर चर्चा: प्रकाश जावड़ेकर बोले, प्रदूषण खत्म करना स्वीच ऑफ और ऑन करना नहीं है, इसके लिए...

पॉल्यूशन पर चर्चा: प्रकाश जावड़ेकर बोले, प्रदूषण खत्म करना स्वीच ऑफ और ऑन करना नहीं है, इसके लिए...

Parliament Live Updates: संसद के शीतकालीन सत्र का आज चौथा दिन है। देशभर में ख़ासकर दिल्ली में वायु प्रदूषण ख़तरनाक स्तर पर पहुंचने के मामले में राज्यसभा में गुरुवार को कुछ सदस्यों के ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पर चर्चा हुई। राज्यसभा की संशोधित कार्यसूची में इस विषय को लोकहित के महत्वपूर्ण विषय पर पेश ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पर चर्चा के लिये सूचीबद्ध किया गया। इस प्रस्ताव का नोटिस भाजपा सदस्य आरके सिन्हा, विजय गोयल और केजे अलफ़ोंस ने दिया था। 

उल्लेखनीय है कि वायु प्रदूषण के मुद्दे पर आवास एवं शहरी मामलों के मंत्रालय की विभाग संबंधी संसद की स्थायी समिति ने भी बुधवार को पर्यावरण मंत्रालय सहित अन्य संबद्ध केंद्रीय एजेंसियों से इस दिशा मे किए गए उपायों की समीक्षा की थी। उच्च सदन में ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पर चर्चा के माध्यम से यह विषय पर्यावरण मंत्री के संज्ञान में लाया जा सकेगा। इसके अलावा भाकपा ने भी राज्यसभा में नियम 267 के तहत कार्यस्थगन प्रस्ताव का नोटिस देकर भारत पेट्रोलियम कारपोरेशन सहित सार्वजनिक क्षेत्र की पांच कंपनियों में सरकार की पूरी हिस्सेदारी बेचे जाने के मुद्दे पर चर्चा कराने की माँग की है। 

पढ़ें Parliament Live Updates

Thu, 21 Nov 2019 05:21 PM IST

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, प्रदूषण खत्म करना स्वीच ऑफ और ऑन करना नहीं है, इसके लिए...

पर्यावरण, वन और जलवायु मंत्री मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, दूसरे सदन में किसी ने कहा कि बीजिंग ने अपना प्रदूषण 15 साल में कम किया। हमें भी कुछ समय लगेगा और हम भी जल्द इसमें कामयाबी हासिल करेंगे। हमें 15 साल से कम समय में ये लक्ष्य हासिल कर लेंगे। उन्होंने कहा कि इसके प्रयास हमेशा करने चाहिए। उन्होंने कहा कि एक दिन स्वीच ऑन और स्वीच ऑफ करने से कुछ नहीं होगा। उन्होंने कहा कि  एक दिन स्वीच ऑफ किया और प्रदूषण खत्म, ऐसी जादू की छड़ी किसी के पास नहीं है।
 

Thu, 21 Nov 2019 04:10 PM IST gulam nabi

गुलाम नबी आजाद ने कहा, वायु प्रदूषण फैलाने में हर भारतीय का थोड़ा हिस्सा

गुलाम नबी आजाद ने कहा, प्रदूषण पर तीनों तरफ से सुझाव आए। वायु प्रदूषण को प्रदूषित करने में हर भारतीय का थोड़ा हिस्सा है। चाहे वो किसी भी पार्टी से धर्म से हो। उन्होंने कहा कि इसके लिए सिगरेट, तंबाकू, पान, चूल्हा, मशीनरी, फैक्ट्ररी, किसानों के घास जलाना और हमारी गाडियां प्रदूषण के लिए जिम्मेदार हैं। हर सरकार भी प्रयास करती है। उन्होंने कहा कि तीन करोड़ बहन-बेटियां गर्भवती होती है। उनके पेट में बच्चों और महिलाओं की क्या हालत है। उन्होंने कहा कि हम सब इंसानी जानों से खेलते हैं। हमें समाधान की तरफ जाना चाहिए। 

गुलाम नबी ने कहा कि मंत्री साहब को प्रधानमंत्रियों से निवेदन करना चाहिए कि सभी मुख्यमंत्रियों की बैठक बुलाए क्योंकि वो ही समस्या का हल निकालेंगे। सांसद वहां भी भाषण देकर आएंगे लेकिन उससे कुछ होगा नहीं। इस बैठक में केन्द्र सरकार के संबंधित मंत्री, मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्रियों, राज्यपाल या उपराज्यपालों को बैठक में बुलाना चाहिए। इस बैठक में एजेंडा तय होना चाहिए। छह महीने में दोबारा बैठक होनी चाहिए। बैठक में राज्य सरकार क्या करेंगी और केन्द्र सरकार क्या करेगी।  

Thu, 21 Nov 2019 02:53 PM IST sanjay singh

संजय सिंह ने कहा, केजरीवाल को गाली देने से प्रदूषण कम होता है तो दिन रात दीजिए

आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने कहा कि केन्द्रीय मंत्री ने सच सबके सामने रखा है। प्रदूषण के दिनों में कमी आई है। मंत्री ने जो रिपोर्ट सदन में रखी है वो ही रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट में रखी है। दिल्ली में प्रदूषण कम हुआ है। दिल्ली सरकार ने ग्रीन कवर बढ़ाया गया, ऑर्ड ईवन, बिजली, दो थर्मलपावर प्लांट बंद किए गए। 56 हजार मशीने अलग-अलग राज्यों को दी गई। सुप्रीम कोर्ट का डाटा कुछ और कहता है। 20 हजार मशीन पंजाब, हरियाणा और यूपी को दी गई। मैं मंत्री साहब से पूछना चाहता हूं कि बाकी 36 हजार मशीनें कहां । उन्होंने कहा कि केजरीवाल को गाली देकर प्रदूषण कम होता है तो दिन रात उनको गाली दीजिए। उन्होंने कहा कि दूसरे सदन में केजरीवाल के स्वास्थ्य को लेकर मजाक बनाया है। मैं चाहता हूं कि भाजपा के सांसदों को स्वास्थ्य हमेशा ठीक रहे। उन्होंने कहा कि ऑर्ड-ईवन के विरोध में सांसद निकल जाते हैं। हम पटाखे चलाने से दिल्ली के बच्चों को रोक लेकिन दूसरे लोगों ने दीवाली पर पटाखे चलाए। उन्होंने कहा कि देश के सबसे दस सबसे प्रदूषित शहरों में दिल्ली का नाम नहीं लेकिन दिल्ली को बदनाम किया जा रहा है।

Thu, 21 Nov 2019 02:34 PM IST

विजय गोयल ने कहा, दिल्ली में आज सांस लेना 25 सिगरेट के बराबर है

राजस्थान ने बीजेपी सांसद विजय गोयल ने कहा, प्रदूषण पर चर्चा इसलिए हो रही है कि राजधानी आज इतनी प्रदूषित हो गई है। केन्द्र सरकार ने बहुत कुछ किया है लेकिन दिल्ली सरकार ने कुछ नहीं किया। 10 हजार से ज्यादा लोग सांस लेने के चलते मर गए। आज सांस लेना 25 सिगरेट के बराबर है। दिल्ली सरकार ने 50 लाख मास्क बांटकर भ्रष्टाचार कर दिया है। दिल्ली में जल प्रदूषण इतना ज्यादा है कि बोतल का पानी पीना पड़ रहा है। 

Thu, 21 Nov 2019 02:14 PM IST

गंगा सफाई पर बोले शेखावत, पूरी हो चुकी हैं 100 से अधिक परियोजनाएं

केंद्रीय जल मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने लोकसभा में कहा कि गंगा को साफ करने के लिए स्वीकृत 305 परियोजनाओं में से 100 से अधिक परियोजनाएं पूरी हो चुकी हैं। उस परियोजना के लिए 20,000 करोड़ रुपये का वितरण किया गया था।

Thu, 21 Nov 2019 11:38 AM IST

चुनावी बॉन्ड को लेकर कांग्रेस और लेफ्ट का हंगामा

सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों के विनिवेश तथा चुनावी बॉण्ड के मुद्दे पर वाम तथा कांग्रेस सदस्यों के हंगामे के कारण राज्यसभा की बैठक बृहस्पतिवार को शुरू होने के कुछ ही देर बाद दोपहर बारह बजे तक के लिए स्थगित। 

Thu, 21 Nov 2019 11:17 AM IST

टीएमसी ने भी दिया स्थगन प्रस्ताव नोटिस

तृणमूल कांग्रेस ने लोकसभा में देशभर में एनआरसी लागू करने को लेकर स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया।

Thu, 21 Nov 2019 11:16 AM IST

कांग्रेस ने दिया स्थगन प्रस्ताव नोटिस

कांग्रेस पार्टी ने 'चुनावी बॉन्ड की पूरी योजना में पारदर्शिता की कमी' को लेकर लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया है।

Thu, 21 Nov 2019 11:14 AM IST

संजय सिंह ने दिया शून्य काल का नोटिस

आम आदमी पार्टी सांसद संजय सिंह ने 'अपनी भूमि से विस्थापित आदिवासी लोगों के मुद्दे पर राज्यसभा में शून्यकाल का नोटिस दिया है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पॉल्यूशन पर चर्चा: प्रकाश जावड़ेकर बोले, प्रदूषण खत्म करना स्वीच ऑफ और ऑन करना नहीं है, इसके लिए...

चुटकुले

मोटू: यार शादीशुदा समझदार पति अख़बार में अपना राशिफल नहीं देखते,

मोटू: यार शादीशुदा समझदार पति अख़बार में अपना राशिफल नहीं देखते,
पतलू: क्यों?
मोटू: वो बीवी का चेहरा देखकर ही जान लेते हैं कि
आज का दिन कैसा गुज़रेगा