फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ लाइफस्टाइलकुर्सी पर घंटों बैठे-बैठे काम करने वाले लोगों के लिए पांच स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज

कुर्सी पर घंटों बैठे-बैठे काम करने वाले लोगों के लिए पांच स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज

ऑमिक्रॉन के खतरे के बीच ज्यादातर ऑफिस में वर्क फ्रॉम होम चल रहा है। ऐसे में घर पर ऑफिस जैसा सिटिंग अरेंजमेंट और कम्फर्ट मिलना मुश्किल हो जाता है। वर्क फ्रॉम होम में वर्किंग ऑवर कुछ ज्यादा लम्बे हो...

कुर्सी पर घंटों बैठे-बैठे काम करने वाले लोगों के लिए पांच स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज
Pratima Jaiswalलाइव हिन्दुस्तान टीम ,नई दिल्लीSun, 30 Jan 2022 02:46 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

ऑमिक्रॉन के खतरे के बीच ज्यादातर ऑफिस में वर्क फ्रॉम होम चल रहा है। ऐसे में घर पर ऑफिस जैसा सिटिंग अरेंजमेंट और कम्फर्ट मिलना मुश्किल हो जाता है। वर्क फ्रॉम होम में वर्किंग ऑवर कुछ ज्यादा लम्बे हो जाते हैं, जिसका सीधा-सा असर हमारी हेल्थ पर पड़ता है। ऐसे में अगर आपको एक्सरसाइज का टाइम नहीं मिल पाता, तो आप चेयर पर बैठे-बैठे या फिर कुछ देर खड़े होकर ही स्ट्रेचिंग का टाइम निकाल सकते हैं। घर में काम करने के दौरान ही नहीं बल्कि ऑफिस में भी आपको कुछ देर स्ट्रेचिंग जरूर करनी चाहिए। 


बॉडी स्ट्रेचिंग क्यों जरूरी है?
स्ट्रेचिंग से लचीलापन बढ़ता है. खासतौर पर इससे शरीर या पैरोंं पर पड़ने वाला दबाव कम होता है। शरीर का लचीलापन और गति बढ़ाने व चोट से बचाने के लिए स्ट्रेचिंग बहुत जरूरी है। स्ट्रेचिंग को दिनचर्या में शामिल करना रेग्युलर वर्कआउट करने जितना ही जरूरी है। दिन में कम से कम एक बार इसे करने से मांसपेशियों को आराम मिलेगा।वआप दिन-भर में कभी भी अपनी मांसपेशियों को स्ट्रेच कर सकते हैं। बस यह देख लें कि आपको अपने हाथ-पैर पूरी तरह से फैलाने के लिए थोड़ी जगह मिलनी चाहिए। जब आप सोकर उठते हैं या सोने जाने से पहले या फिर काम के दौरान मिलने वाले ब्रेक में भी स्ट्रेचिंग कर सकते हैं।

 

डेस्क जॉब वालों के लिए स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज 

चेयर बैक स्ट्रेच (Chair Back Stretch)
इस स्ट्रेचिंग से बैक मसल्स लूज होंगे। इसे करने के लिए घर या ऑफिस में बैक सपोर्ट वाली चेयर पर बैठें। अब दोनों हाथ पीछे की ओर ले जाकर आपस में पकड़ लें या एक साइड हवा में रखें। अब पीठ मोड़ते (arch) हुए छाती को आगे की ओर बढ़ाएं। स्ट्रेच को 30 सेकेंड तक करें और 5 बार दोहराएं।

 

neck stretch excercise

 

वन आर्म हग (One Arm Hug)
इस स्ट्रेच को करते समय दायां हाथ आगे से बाएं कंधे पर रखें। इसके बाद अधिक खिंचाव के लिए बाएं हाथ से दाएं हाथ की कोहनी को पीछे की ओर धकेलें। इससे हाथ और शोल्डर पर स्ट्रेच आएगा। इस स्ट्रेच को दोनों हाथों से 30-30 सेकेंड के लिए 2-3 बार करें।

 

नेक स्ट्रेच (Neck Stretch)
नेक स्ट्रेच करने के लिए कुर्सी पर बैठे-बैठे अपने दाहिने हाथ से सिर को पहले दाई तरफ स्ट्रेच करें, फिर बाएं हाथ से बाईं ओर इसके बाद दोनों हाथों को हल्के से सिर पर रखकर गर्दन को आगे की ओर झुकाएं। अब ठोड़ी से हल्का दवाब देते हुए ऊपर की ओर स्ट्रेच करें।

 

neck stretch excercise


शोल्डर श्रग (Shoulder Shrugs)
कंधे और गर्दन टाइपिंग से अधिक स्ट्रेस और टेंशन में आ जाते हैं। उन्हें लूज करने के लिए बैठे-बैठे शोल्डर श्रग करना अच्छा ऑप्शन हो सकता है। इसे करने के लिए कुर्सी पर बैठकर कंधों को ऊपर उठाते हुए कानों के पास ले जाने की कोशिश करें और 30 सेकेंड के लिए होल्ड करें। फिर नॉर्मल हो जाएं। ऐसे 2-3 बार करें। लंबे समय तक टाइपिंग या दूसरे काम करने के बाद यह स्ट्रेच काफी रिलेक्स फील कराता है।


लोअर बैक स्ट्रेच (lower back stretch)
इस स्ट्रेच में आपको कुर्सी पर बैठकर अपने पंजों को टच करना है।  शुरुआत में यह थोड़ी मुश्किल लग सकती है, लेकिन कोशिश करें कि आप जितना हो सके नीचे जाएं। इसे भी 30 सेकेंड तक होल्ड करें और 3-5 बार दोहराएं।

epaper