फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ लाइफस्टाइलखुद को तलाशने के लिए जरूरी है सोलो ट्रैवलिंग, जानें क्या-क्या हैं इसके फायदे

खुद को तलाशने के लिए जरूरी है सोलो ट्रैवलिंग, जानें क्या-क्या हैं इसके फायदे

अकेले यात्रा करना यानी सोलो ट्रैवल आज के समय का चलन है। ढेरों लोग अकेले घूमने जाने का सपना देखते हैं और कई इसे पूरा भी करते हैं। अकेले सफर करना आपके लिए क्यों है फायदेमंद, बता रही हैं चयनिका...

खुद को तलाशने के लिए जरूरी है सोलो ट्रैवलिंग, जानें क्या-क्या हैं इसके फायदे
Pratima Jaiswalहिंदुस्तान टीम ,नई दिल्ली Sat, 20 Nov 2021 09:42 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

अकेले यात्रा करना यानी सोलो ट्रैवल आज के समय का चलन है। ढेरों लोग अकेले घूमने जाने का सपना देखते हैं और कई इसे पूरा भी करते हैं। अकेले सफर करना आपके लिए क्यों है फायदेमंद, बता रही हैं चयनिका निगम-

अभिनेता पंकज त्रिपाठी भी मानते हैं कि ‘बिना यात्रा के वो खोया हुआ महसूस करते हैं। यात्राएं बहुत कुछ सिखाती हैं।’ पंकज की ये बात सही ही है। यात्राएं सच में अनोखा अनुभव दे जाती हैं। ये यात्रा जब अकेले की जाए, तो और भी बेहतर। अकेले की गई यात्रा खुद से रूबरू कराने का काम भी आसान कर देती है। अकेले यानी सोलो ट्रैवल करने के और क्या-क्या होते हैं फायदे, जान लीजिए-

कंफर्ट जोन है कहां
कंफर्ट जोन कहां है? आपके घर में? आपकी अपनी जिंदगी के कई हिस्सों में है ये कंफर्ट जोन। मगर खुद में छुपी खूबियों को जानने के लिए इस कंफर्ट जोन से बाहर आना जरूरी होता है। अकेले यात्रा शुरू करेंगी, तो इस जोन से बाहर आने का मौका मिलेगा। आप समझ पाएंगी कि आपकी दुनिया सिर्फ इतने तक ही सीमित नहीं है, बल्कि अभी और भी बहुत से कमाल आपको करने हैं।

 

नई-नई जानकारी
ये बात बिल्कुल सही है कि जब आप परिवार के साथ बाहर जाते हैं, तो आप ज्यादातर समय अपने परिवार के साथ ही व्यस्त होती हैं। जबकि अकेले होने पर आप नए लोगों से मिलती हैं, तो जिंदगी के नए रंगों से रूबरू होने का मौका मिलता है। जैसे हो सकता है आप किसी ऐसी लड़की से मिलें, जिसने घूमने के लिए अपनी नौकरी छोड़ दी। मगर आप सालों से बेहतरीन डांसर होने के बाद भी अपनी नौकरी छोड़ने का रिस्क नहीं ले पा रही हैं। पर अब आपको ऐसा करने का साहस मिलेगा। अकेले घूमने निकलेंगी, तो खर्च कम होगा, जब खर्च कम होगा, तो आप ज्यादा घूमेंगी और आपके अनुभव भी ज्यादा होंगे। कम खर्च में ज्यादा घूमने का अच्छा तरीका है सोलो ट्रैवल।

 

सीखें आत्मनिर्भर बनना
अकेले यात्रा का एक फायदा ये भी है कि आप आत्मनिर्भर बनना सीख पाती हैं। आप जान पाती हैं कि बिना किसी की सहायता लिए जिंदगी के कई सारे काम किए जा सकते हैं। जबकि हमेशा लोगों से घिरे रहना आपको अपनी सुरक्षा या दूसरे जरूरी कामों के लिए दूसरों पर निर्भर ही बनाए रखता है। धीरे-धीरे आप अपने काम करके अपनी क्षमताओं को पहचान लेते हैं। फिर जिंदगी आप खुद ही मैनेज कर लेते हैं। अकेले यात्रा करना आपको अपनी सुरक्षा के लिए खुद ही आगे आने का साहस भी दे देता है। बाहर निकलते हुए आप ये समझ पाती हैं कि अपनी सुरक्षा को लेकर भी आप दूसरों पर निर्भर नहीं हैं। कुछ जरूरी कदम आपको हमेशा सुरक्षित रख सकते हैं और इन कदमों को आप खुद ही पहचान और सीख लेती हैं।

 

तनाव भी होगा कम
कई सारे शोधों में ये माना गया है कि यात्रा तनाव कम करने में सहायक है। जब आप अकेले यात्रा करने निकलती हैं तो सिर्फ अपने साथ होती हैं और यही साथ आपको अपनी परेशानियों को समझने में मदद करता है। आप अपनी स्थितियों का आकलन कर पाती हैं और तनाव को खुद से दूर रखने के उपाय भी तलाश पाती हैं। फिर ये यात्रा भले ही दो दिनों की हो, लेकिन आपके तनाव को भगाने का काम करती है।

 

अकेले सफर में क्या-क्या रखें याद?
-पहचान से जुड़े सभी जरूरी कागजात की फोटोकॉपी और असल कॉपी साथ रखें। लेकिन ओरिजनल कॉपी को हमेशा सुरक्षित रखें और पहले फोटोकॉपी का इस्तेमाल करने की कोशिश करें, ताकि असली कागजात खोने का डर न रहे।
-डेबिट या क्रेडिट कार्ड होने के बावजूद भी अपने पास कुछ कैश जरूर रखें। फोन को हमेशा चार्ज रखें।
-प्लान ऐसा बनाएं, जिसमें सिर्फ भागते हुए ही ट्रिप खत्म न हो जाए। कम जगह जाएं, लेकिन सुकून से उसको देखें और महसूस करें।