DA Image
हिंदी न्यूज़ › लाइफस्टाइल › तेजी से वजन कम करने के साथ महसूस नहीं होने देंगे कमजोरी ये 5 योगासन, आप भी करें ट्राई
लाइफस्टाइल

तेजी से वजन कम करने के साथ महसूस नहीं होने देंगे कमजोरी ये 5 योगासन, आप भी करें ट्राई

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Manju Mamgain
Sun, 25 Jul 2021 04:13 PM
तेजी से वजन कम करने के साथ महसूस नहीं होने देंगे कमजोरी ये 5 योगासन, आप भी करें ट्राई

Weight Loss Yoga Asanas: अगर आप अपने बढ़ते वजन से परेशान हो चुके हैं और जल्द उससे बिना कोई कमजोरी महसूस किए छुटकारा पाना चाहते हैं तो रोजाना इन 5 आसनों का अभ्यास जरूर करें। इन व्यायामों को करने से आपके शरीर में लचीलापन बढ़ने के साथ मोटापा भी दूर होता है। तो देर किस बात कि आइए जानते हैं मोटापे और बढ़ते वजन से छुटकारा पाने के लिए कौन से 5 आसन कर सकते हैं आपकी मदद।  

वजन कम करने के लिए बेस्ट हैं ये 5 योगासन-
अग्निसार-

अग्निसार प्राणायाम का एक प्रकार है। अग्निसार पाचन प्रक्रिया को गति‍शील बनाकर उसे मजबूत बनाए रखने में मदद करता है। यह क्रिया पेट की चर्बी घटाकर मोटापे को दूर रखते हुए व्यक्ति को कब्ज की समस्या में भी राहत देती है। 

अग्निसार आसन करने का तरीका-
इस क्रिया को करने के लिए शरीर को स्थिर कर पेट और फेंफड़े की वायु को बाहर छोड़ते हुए उड्डियान बंध लगाएं अर्थात पेट को अंदर की ओर खींचें। सहजता से जितनी देर सांस रोक सकें रोककर रखें और पेट को नाभि पर से बार-बार झटके से अंदर खींचने और ढीला छोड़ें। 

कपालभारती-
कपालभारती करने से लीवर, किडनी और गैस की समस्या दूर होती है। कपालभाति प्राणायाम वजन कम करने के लिए बहुत फायदेमंद है, क्योंकि इसका सीधा जुड़ाव हमारी पाचन शक्ति और पेट के स्वास्थ्य से है।

कपालभारती करने का तरीका-
कपालभाति प्राणायाम करने के लिए रीढ़ को सीधा रखते हुए सुखासन में बैठें। इसके बाद तेजी से नाक के दोनों छिद्रों से सांस को यथासंभव बाहर फेंकें। साथ ही पेट को भी यथासंभव अंदर की ओर संकुचित करें। इसके तुरंत बाद नाक के दोनों छिद्रों से सांस को अंदर खीचतें हैं और पेट को यथासम्भव बाहर आने देते हैं।इसे कम से कम 5 मिनट और अधिकतम 30 मिनट तक कर सकते हैं। 

सूर्य नमस्कार-
सूर्य नमस्कार एक ऐसा योग है जो व्यक्ति को शारीरिक और मानसिक दोनों रूपों से स्वस्थ रखता है। जो लोग कब्ज, अपच या फिर पेट में जलन की समस्या से जूझ रहे हैं उन्हें रोजाना सुबह खाली पेट सूर्य नमस्कार का अभ्यास करना चाहिए। सही तरीके से सूर्य नमस्कार करने से बहुत कम समय में तेजी से वजन कम किया जा सकता है। 

भुजंगासन- 
भुजंगासन करने से शरीर सुंदर तथा कान्तिमय बनने के साथ शरीर की थकावट भी दूर होती है। यह आसन बेडौल कमर को पतली, सुडौल और आकर्षक बनाता है।

भुजंगासन करने का तरीका
भुजंग आसन को करते समय धीरे-धीरे अपनी सांस छोड़ते हुए छाती को आगे की और ले जाएं। हाथों को ज़मीन पर सीधा रखें। गर्दन पीछे की ओर झुकाएं और दोनों पंजों को सीधा खड़ा रखें।

हलासन-
हलासन मेटाबॉलिज्म को बढ़ाकर वजन घटाने में मदद करता है। थायराइड ग्रंथि को संतुलित कर मोटापा एवं दुर्बलता आदि को दूर करता है। गैस, कब्ज एवं अपच में भी यह आसन लाभकारी है।

हलासन करने का तरीका – 
फर्श पर पीठ के बल सीधे लेट जाएं और अपने दोनों हाथों को भी बिल्कुल आराम की मुद्रा में जमीन पर सीधे रखें। लंबी सांस लेते हुए पेट की मांसपेशियों के सहारे अपने पैरों को फर्श से ऊपर उठाएं और दोनों पैरों को 90 अंश के कोण पर खड़े रखें। सामान्य रूप से लगातार सांस लेते हुए अपने कूल्हों और पीठ को हाथ की सहायता से फर्श से ऊपर उठाएं। अब अपने पैरों को सिर के ऊपर से ले जाते हुए 180 डिग्री के कोण पर मोड़े जब तक कि आपके पैरों की उंगलियां फर्श से नहीं छू जाती हैं।

यह भी पढ़ें - डियर लेडीज, नोट कीजिए मुनक्का के ये बेमिसाल फायदे, ताकि आप रहें हमेशा सेहतमंद

Disclaimer- इस आलेख में दी गई जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

 

संबंधित खबरें